पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दोस्ती में दगा:दोस्त को घर बुलाकर शराब पिलाई, फिर धारदार हथियार से हत्या की, घसीटते गली में फेंक भागा

अशोकनगर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हत्या के बाद घटनास्थल पर मौजूद भीड़।
इनसेट में मृतक विकास उर्फ बिट्‌टू। - Dainik Bhaskar
हत्या के बाद घटनास्थल पर मौजूद भीड़। इनसेट में मृतक विकास उर्फ बिट्‌टू।
  • आधी रात परिजन आरोपी के घर पहुंचे, आरोपी ने मृतक को उल्टा लेटा दिखाकर, कहा- सो रहा है

शहर की शंकर कॉलोनी में मंगलवार-बुधवार की दरमियानी रात 26 वर्षीय युवक की हत्या हो गई। वारदात को उसी के साथ मजदूरी करने वाले दोस्त ने अंजाम दिया। दोनों ने पहले साथ में शराब पी। इसके बाद हत्यारे दोस्त ने अपने घर में दोस्त की धारदार हथियारों से हत्या कर दी। मौत हो जाने के बाद उसे घसीटते हुए 2 फीट दूर ले गया और फेंककर भाग गया।

जानकारी के अनुसार मृतक विकास उर्फ बिट्टू अहिरवार (26) है। जिसे उसी के साथ मजदूरी करने वाले पड़ोसी दोस्त सुनील जोशी (40) ने मार डाला। वाकई बुधवार सुबह करीब 7 बजे सामने आया। युवक की हत्या करने के बाद आरोपी दोस्त सुनील उसे घसीटते हुए अपने घर से बाहर ले गया और मृतक के घर से करीब 2 फीट दूर फेंक दिया। इधर, बिट्टू को घसीटकर लाते देख मृतक के पिता राजकुमार अहिरवार ने आवाज लगाई। आवाज सुनकर राजकुमार का साला भी आ गया। दोनों बिट्टू को बचाने के लिए दौड़े। जिन्हें देखते ही आरोपी सुनील वहां से भाग निकला।

मृतक के पिता राजकुमार ने बताया कि उस समय तक बिट्टू हमें मृत अवस्था में मिला। दौड़ते हुए पहुंचे तो आरोपी सुनील अपने घर के बाहर की कुंदी लगाकर वहां से फरार हो चुका था। घर की चौखट के समीप खून के निशान दिखाई दिए। दरवाजा खोलकर देखा तो अंदर कमरे में भी खून के निशान थे जो सुख चुके थे। मौके पर पहुंचकर पुलिस ने मर्ग कायम कर पीएम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया। कुछ देर बाद आरोपी सुनील को भी पुलिस ने दबोच लिया। लेनदेन का मामला भी सामने आया है।

शंकर कॉलोनी में मंगलवार-बुधवार की दरमियानी रात हुई वारदात, घर से लेकर आंगन और गली तक दिखाई दिए खून के छींटे, घसीटकर चेहरा भी घिसा दिया
आधी रात को मृतक की मां पहुंची थी आरोपी के घर
मंगलवार रात 12 बजे तक मृतक बिट्टू घर नहीं पहुंचा तो उसकी मां ढूंढते हुए सुनील के घर पहुंची। इस पर आरोपी ने उन्हें यह कहकर वापस लौटा दिया कि बिट्टू को नींद आ चुकी है। आप घर जाओ वह सुबह घर आ जाएगा। इस पर मृतक की मां ने अंदर झांककर देखा तो बिट्टू उल्टा जमीन पर पड़ा था। उन्हें लगा बिट्टू सो रहा है और वह चली गई।

अकेला रहता है आरोपी, पत्नी शादी के 1 माह बाद छोड़ गई
मृतक बिट्टू और आरोपी सुनील दोनों का मकान करीब 200 से 250 फीट की दूरी पर है। दोनों साथ में ही मजदूरी का काम किया करते थे। मृतक विकास उर्फ बिट्टू अपने पूरे परिवार के साथ कॉलोनी में रहता था। जबकि आरोपी सुनील किराए के मकान में अकेला रहता था।

पड़ोसियों से चर्चा करने पर उन्होंने बताया कि सुनील की भी कई साल पहले शादी हो चुकी थी लेकिन शादी के 1 महीने बाद ही उसकी पत्नी उसे छोड़कर चली गई। इसके बाद वह अकेला शंकर कॉलोनी में पिछले कई सालों से रह रहा था।

चेहरा नहीं पहचान पाए रहवासी
दोस्त की हत्या करने के बाद आरोपी सुनील मृतक बिट्टू को घसीटते हुए अपने घर से बाहर ले गया। घर के अंदर से घसीटते हुए वह करीब 100 फीट दूर तक ले गया। इससे मृतक बिट्टू का पूरा चेहरा ही छिल गया। चेहरे पर खून सना होने के कारण काफी देर तक कॉलोनी के रहवासी ही उसकी पहचान नहीं कर सके।

नशे में विवाद के बाद हत्या की बात कबूली
पुलिस पूछताछ में आरोपी सुनील में शराब के नशे में विवाद हो जाने की बात कही है। विवाद के दौरान ही गुस्से में आकर उसने वारदात को अंजाम देने की बात पुलिस को बताई। हालांकि यह बात अभी पुलिस को भी गले नहीं उतर रही। ऐसे में पुलिस अभी उससे पूछताछ में लगी है।

जादू-टोना में लगा रहता है सुनील
कॉलोनियों के रहवासियों की माने तो आरोपी सुनील जादू टोने पर ज्यादा भरोसा रखता है। वह खुद भी ऐसे ही काम करता रहता है। घर की चौखट में नींबू और मिर्च भी बांधकर रखता है। ऐसे में कॉलोनी के रहवासी इस वारदात को जादू टोने से जोड़कर भी देख रहे हैं।

आरोपी हिरासत में लिया

  • शराब के नशे में विवाद होने के बाद हत्या कर देने की बात सामने आई है। आरोपी और मृतक दोनों दोस्त थे और साथ में ही मजदूरी किया करते थे। संभवत शराब पीते हुए किसी बात को लेकर दोनों में विवाद हुआ है। आरोपी को पुलिस हिरासत में ले लिया गया है। आरोपी से पूछताछ की जा रही है। अभी जादू टोने जैसी बात कोई बात सामने नहीं आई है। -रघुवंश सिंह भदौरिया, एसपी
खबरें और भी हैं...