जनजीवन अस्तव्यस्त:बारिश से ग्रामीण क्षेत्र में कई मकान क्षतिग्रस्त, मकान टूटने से घर गृहस्थी का सामान बर्बाद

अशोकनगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राज्यमंत्री प्रभावित क्षेत्र का दौरा करते हुए - Dainik Bhaskar
राज्यमंत्री प्रभावित क्षेत्र का दौरा करते हुए

क्षेत्र में हुई बारिश से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। जिले में पहली बार हुई इतनी तेज बारिश से लोग भारी परेशान है। जिन क्षेत्र में पानी भरा था उन क्षेत्रों के रहवासियों को रहने और भोजन की परेशानी हो रही है। बारिश के कारण लोगों के मकान टूटने से सामान खराब हो गया है। घरों में पानी भरने से लोगों के पास खाने पीने की व्यवस्था भी नहीं बची है। बारिश के कारण कई मवेशी पानी में बह गए। वहीं फसलों को भी भारी नुकसान हुआ है।

कई लोग हुए बेघर, कई रास्ते हुए बंद

मुंगावली | शुक्रवार को क्षेत्र में आई बाढ़ से भारी तबाही हुई। बारिश से कई मकान टूट गए। वहीं मकानों में पानी भरने से लोगों का सामान बारिश में बह गया वहीं अनाज गीला होने से बर्बाद हो गया। लोगों के पास खाने को अनाज तक नहीं है। वहीं कई मवेशी बाढ़ में बह गए। प्रशासनिक अमले ने बाढ़ में फंसे लोगों को बाहर निकाला इन लोगों को शहर में बनाए गए कैंप में रखा गया है। इन लोगों की खाने की व्यवस्था प्रशासन द्वारा की जा रही है। मलउखेड़ी गांव में आपदा प्रबंधन टीम ने करीब 100 लोगों को बचा कर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। बाढ़ के चलते कई सड़कें क्षतिग्रस्त हो गई।

राज्यमंत्री ने किया प्रभावित क्षेत्र का दौरा

पीएचई राज्यमंत्री बृजेंद्र सिंह यादव ने शनिवार को बाढ़ प्रभावित ढिचरी, ऑक्सी आदि गांव का दौरा किया। उन्होंने लोगों से मिलकर उन्हें हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। इसके साथ ही उन्होंने बंघर हुए लोगों से कहा है कि वे अभी राहत शिविरों में ही रहें। इस दौरान उनके साथ नरेश ग्वाल, दीपक पालीवाल, मनीष मोदी, एसडीएम राहुल गुपता, जनपद सीईओ जितेंद्र जैन, तहसीलदार दिनेश सांवले साथ थे।

अतिवृष्टि से बिजली 36 घंटे से गुल

बहादुरपुर | क्षेत्र के अमोदा, हारुखेड़ी, झागर बमुरिया, पिपरौदा, बरखुवा आदि गांवों में तेज बरसात के कारण दर्जनों मकान गिर गए। दस अगस्त तक भारी बारिश के अलर्ट के चलते बर्री, सिरसौरा, मलउखेड़ी के रहवासियों को भी बस्तियां खाली कराकर आश्रय स्थलों में ठहराया गया। कलेक्टर और एसपी शनिवार को गोरा, बर्री व मलउखेड़ी पहुंचे और बाढ़ प्रभावितों का जायजा लिया।अंचल की बिजली पिछले 36 घंटे से गुल है।

प्रभारी मंत्री ने किया बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा, शिविर में भी गए

शाढ़ौरा | जिले के प्रभारी मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर शनिवार को गुना जाते समय सिंध नदी की बाढ़ से प्रभावित चारोदा पहुंचे। प्रभारी मंत्री ने तहसीलदार विनीत गोयल को निर्देश दिए कि पीड़ितों को हर संभव सुविधायें मुहैया कराई जाए। प्रभारी मंत्री ने स्कूल में बनाए गए राहत शिविर में भी गए और लोगों से मिले और उनसे व्यवस्थाओं के बारे में पूछा और उन्हें शाढ़ौरा में बनाए राहत शिविर में रुकने का आग्रह किया। पीड़ितों को 50 किलोग्राम खाद्यान्न मुफ्त देने और अस्थाई टेंट एवं चद्दर की व्यवस्था कर अस्थाई आवास बनाने के निर्देश दिए।

पौरुखेड़ी पंचायत की गोशाला में भरा पानी

नईसराय | तेज बारिश से सिंध लहरघाट के पुल से ऊपर होकर निकल गई। इससे कई मकान क्षतिग्रस्त हो गए। इससे पोरुखेड़ी गांव में बनी गोशाला में पानी भर गया। इससे भूसा खराब हो गया। गांव के सरपंच पति संजीब रघुवंशी ने बताया कि सिंध नदी में पानी अधिक आने के कारण गोशाला में पानी भर गया। मवेशियों को निकाल कर पंचायत परिसर में लाया गया।

खबरें और भी हैं...