अशोकनगर की घटना / ब्लड की कमी से प्रसूता की मौत, बिना लाइट वाले ट्रैक्टर में बैट्री लगाकर ले गए परिजन

X

  • अस्पताल में डिलेवरी के पहले चढ़ाया गया था 2 यूनिट ब्लड

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

अशोकनगर. ब्लड की कमी के चलते एक प्रसूता की डिलेवरी के दौरान मौत हो गई। उसकी तीसरी डिलेवरी होना थी। ब्लड कम होने पर उसे 2 युनिट ब्लड चढ़ाया लेकिन फिर भी उसकी जान नहीं बच पाई। प्रसूता को प्रसव पीड़ा होने पर बिना लाइट वाले ट्रैक्टर में बैट्री लगाकर इलाज के लिए ले जाया गया।
दरअसल बरखेड़ा डांग तिनसी चक्क निवासी रणवीर आदिवासी की पत्नी उमाबाई की तीसरी डिलेवरी थी। उसको दो बेटियां थी। जिसे प्रसव पीड़ा होने पर इलाज के लिए अस्पताल आने के लिए परिवार के लोगों को परेशान होना पड़ा। रात को बिना लाइट वाले ट्रैक्टर में उसे लेकर करीब 1 किमी तक बैट्री लगाकर पहुंचे। इसके बाद दूसरी गाड़ी से जिला अस्पताल लेकर आए। जहां प्रसव के दौरान उसकी मौत हो गई। प्रसूता को ब्लड की कमी थी, जिसे 2 युनिट ब्लड उपलब्ध कराया गया। एक युवक ने उसकी जान बचाने के लिए ब्लड डोनेट भी किया लेकिन खून की कमी के चलते उसकी मौत हो गई। महिला की मौत के बाद उसका पीएम जिला अस्पताल में किया गया। इसके बाद शव परिजनों को सौंप दिया।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना