नाराजगी ऐसी:मंत्रीजी, कार्रवाई हो तो काम करेंगे अफसर, अब चौथे अधिकारी को खराब सड़क को लेकर प्रभारी मंत्री ने पहनाई माला

अशोकनगर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीएम ग्रामीण सड़क विभाग के एजीएम को फूलों की माला पहनाते प्रभारी एवं ऊर्जा मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर। - Dainik Bhaskar
पीएम ग्रामीण सड़क विभाग के एजीएम को फूलों की माला पहनाते प्रभारी एवं ऊर्जा मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर।

मंत्रीजी आप जिले के प्रभारी मंत्री हैं। नकारा अधिकारियों को आपने माला तो बहुत पहना दी लेकिन अब भी कोई सुधार दिखाई नहीं दे रहा है। आप माला पहनाते जाएंगे और वे पहनते जाएंगे। इससे आप तो चमक रहे हैं लेकिन पब्लिक को इन गड्ढों, गंदगी नाली और अस्पताल की बिगड़ रहे हालात से छुटकारा नहीं मिल रहा है, इसलिए अब माला नहीं आपके एक्शन की जरूरत है, जिससे जिम्मेदार कुछ सुधार कराएं।

दरअसल जिले के प्रभारी मंत्री बनने के बाद प्रद्युम्न सिंह तोमर शनिवार को तीसरी बार अशोकनगर के दौरे पर आए। इस बार भी उन्होंने तुलसी सरोवर के पास आंवरी रोड की दुर्दशा को देखकर प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क के सहायक महाप्रबंधक वीके जैन को माला पहना दी। प्रभारी मंत्री जब पहली बार जिले के दौरे पर आए थे तो उन्होंने अस्पताल का निरीक्षण किया था। यहां अव्यवस्था पर सिविल सर्जन डॉ.जेआर त्रिवेदिया को माला पहना दी थी। दूसरे दाैरे पर नाली में गंदगी देख सीएमओ पीके सिंह एवं खुली डीपी को देखकर बिजली विभाग के श्रवण पटेल को माला पहनाकर नाराजगी जताई थी।

कार्रवाई की बात पर कुएं रस्सी सुनाई की कहानी

रेस्ट हाउस में हुई प्रेसवार्ता के दौरान जब उनसे माला पहनाने के बाद भी सुधार न होने का सवाल किया तो उन्होंने कुएं और रस्सी की कहानी सुना दी। उन्होंने कहा जब सरकार व्यवस्था कर रही है तो सड़क अच्छी होना चाहिए। गड्ढे हो गए हैं तो भरवाना चाहिए। अधिकारी को अपने दायित्व का निर्वहन करना चाहिए। कुएं पर जो रस्सी डालते हैं, घाट पर जो पत्थर रहता है उस पर रस्सी से गड्ढे पड़ जाते हैं। इसके बाद मुस्कुरा दिए।

खबरें और भी हैं...