पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फसल की आवक:दूसरे दिन घटी किसानों की संख्या, फिर भी 16 हजार क्विंटल आवक

अशोकनगर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सरकारी खरीदी ठीक से शुरू नहीं होने के कारण मंडी में सबसे ज्यादा गेहूं की आवक

सोमवार को कृषि उपज मंडी में बंपर आवक होने के दूसरे दिन ही दिन मंगलवार को किसानों की संख्या कम हो गई। हालांकि फिर भी 16 हजार क्विंटल अनाज की आवक रही। अभी सरकारी खरीदी ठीक से शुरू होने होने के कारण मंडी में हो रही कुल आवक का 60 प्रतिशत गेहूं की उपज है। ज्ञात रहे एक दिन पहले सोमवार को अशोकनगर मंडी में 20 हजार क्विंटल अनाज की आवक हुई। बडी संख्या में अनाज से भरे ट्रेक्टर ट्राली आने से मंडी परिसर ही छोटा पड़ गया। खरीदी करने वाले व्यापारी भी सुबह से शाम तक बोली लगाते रहे। फिर भी 200 ट्रेक्टरों का नंबर ही नहीं आ सका।

इधर, इसकी सूचना किसानों को मिलते ही मंगलवार को मंडी पहुंचने वाले किसानों की संख्या कम हो गई। हालांकि इसके बाद भी 16 हजार क्विंटल अनाज की आवक हुई और गेहूं से भरे करीब 50 ट्रेक्टरों नीलामी होने से रह गए। समर्थन मूल्य पर की जा रही गेहूं की खरीदी जिले में अब तक ठीक से शुरू नहीं हो सकी। फसल निकालकर पिछले एक माह से इंतजार कर रहे किसानों को अब तक मोबाइल पर मैसेज नहीं मिला। इधर, लॉकडाउन से चिंतित किसान जल्दबाजी में अनाज बेचने लगे है।

समर्थन मूल्य से कम में बेचने को मजबूर
सरकारी सिस्टम की देरी के कारण किसान समर्थन मूल्य से कम कीमत में गेहूं बेचने को मजबूर है। इस बार सरकार ने गेहूं का समर्थन मूल्य 1975 रुपए तय किए है। लेकिन मंडी में आ रहे सामान्य गेहूं की खरीदी 1600 रुपए से शुरू होकर अधिकतम 1900 रुपए पर टीक जाती है। इसी दाम में किसानों को उपज बेचना पड़ रही है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कुछ रचनात्मक तथा सामाजिक कार्यों में आपका अधिकतर समय व्यतीत होगा। मीडिया तथा संपर्क सूत्रों संबंधी गतिविधियों में अपना विशेष ध्यान केंद्रित रखें, आपको कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती हैं। अनुभव...

    और पढ़ें