पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हमारा घर-हमारा विद्यालय:ऑनलाइन पढ़ाई कराने में हमारा जिला छठवें स्थान पर पढ़ाई सामग्री पहुंचाने 100 फीसदी बने व्हाट्सएप ग्रुप

अशोकनगर16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ऑनलाइन पढ़ाई करता बालक।  - Dainik Bhaskar
ऑनलाइन पढ़ाई करता बालक। 
  • 12% शिक्षकों ने किया हर स्कूल के 5-5 छात्रों से संपर्क, ले रहे फीडबैक

कोरोना महामारी के चलते भले ही सरकारी स्कूल बंद हों लेकिन बच्चों की पढ़ाई ऑनलाइन कराए जाने का प्रयास किया जा रहा है। जिसके तहत हमारा जिला प्रदेश में टॉप 10 में शामिल है। शैक्षणिक गतिविधियां कराए जाने में हमारा जिला छठवें स्थान पर है।

जबकि पड़ाेसी जिला गुना हमसे काफी पीछे है। पढ़ाई कराने और पढ़ाई की सामग्री पहुंचाने के लिए 100 फीसदी व्हाट्सएप बन चुके हैं। हालांकि बुधवार को 5 छात्रों से 12 प्रतिशत ही शिक्षकों ने संपर्क किया जिसके चलते स्कॉर कम हो गया।

एपीसी बलवीर बुंदेला ने बताया कि कोरोना के चलते स्कूल बंद हैं तो वैकल्पिक माध्यमों से शैक्षणिक कार्य कराए जा रहे हैं। जिसके लिए 32 जन शिक्षा केन्द्र में क्लासवार ग्रुप तैयार किए गए हैं। 1 जन शिक्षा केन्द्र पर 8 ग्रुप बनाए गए हैं। प्रत्येक क्लास का एक-एक ग्रुप है। इसके बाद विद्यालय स्तर पर कक्षावार ग्रुप बना है।

जिनमें राज्य स्तर से भेजी जा रही पढ़ाई की सामग्री को बच्चों को उपलब्ध कराया जाता है। जिले का टोटल स्कॉर 79 प्रतिशत हुआ है। जिला 6वें स्थान पर है। बच्चों तक पढ़ाई सामग्री पहुंचाने के लिए 100 प्रतिशत व्हाट्सएप ग्रुप बन चुके हैं।

93 प्रतिशत शिक्षक ऐसे हैं जिन्होंने अपने कक्षा समूह का निर्माण अकादमिक सत्र के विद्यार्थियों के अनुसार कराया। इसी तरह शिक्षकों के उन्नमुखी के लिए सीएम राइज फॉर्थ शृंखला शुरू की गई उसमें ऑनलाइन प्रशिक्षण में भी जिला छठवें स्थान पर है।

खबरें और भी हैं...