पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

सूचना:राजनीतिक व्यक्ति के साथ पंचायत सचिव बैठक में

अशोकनगर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पंचायत सचिवों के साथ राजनीतिक प्रत्याशी की बैठक होने की सूचना मिलने पर शनिवार शाम एफएसटी टीम ने शहर के वेदांत भवन में छापा मारा। एसडीएम, तहसीलदार की टीम पहुंचते ही पहली मंजिल पर बैठक कर रहे सचिवों में भगदड़ मच गई। कई लोग तत्काल नीचे उतर गए तो कुछ कुर्सियों पर ही बैठे रहे। मौके पर कौन राजनीतिक व्यक्ति इन शासकीय कर्मचारियों के साथ था, इसकी जानकारी वीडियोग्राफी देखकर होगी। लेकिन इस पूरे मामले में कांग्रेस ने चुनाव की निष्पक्षता पर सवाल खड़े कर दिए हैं। कांग्रेस जिलाध्यक्ष ने बैठक में भाजपा प्रत्याशी के शामिल होने की बात कही। वहीं दूसरी तरफ बैठक में मौजूद पंचायत सचिव इन आरोपों को नकार रहे हैं। बैठक में मौजूद पंचायत सचिव संगठन के जिलाध्यक्ष ने बताया कि यह बैठक जिला अस्पताल में कैंसर से जूझ रहे उनके एक सचिव साथी को सहायता राशि जुटाने के लिए आयोजित की गई थी। मौके पर पहुंची एफएसटी टीम ने पंचनामा बनाकर कार्रवाई के लिए रिटर्निंग ऑफिसर को मामला भेजा है।

भास्कर सवाल

वो कौन था

इस मामले में अभी तक कोई वीडियो सामने नहीं आया है और ना ही प्रशासन से स्पष्ट कर पाया है कि वहां कौन राजनीति व्यक्ति था लेकिन दूसरी तरफ धुआं उठा है तो आग जरूर लगी होगी। प्रशासन ने यहां पर छापा इसलिए मारा था कि यहां किसी राजनीति व्यक्ति के होने की खबर थी। यह तय हो पाएगा वीडियोग्राफी देखकर । इसके बाद ही हम यह खाली स्थान पर उस तस्वीर को भर सकेंगे।
सूचना पर बड़ी संख्या में पहुंच गए कांग्रेसी
एफएसटी टीम के पहुंचने के बाद धीरे-धीरे कांग्रेस के पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं का जुड़ना शुरू हो गया। कुछ ही देर में जिलाध्यक्ष, प्रदेश प्रवक्ता सहित कई कांग्रेसी नेता भी वेदांत भवन में पहुंच गए।

आचार संहिता में बैठक करना ही दोषपूर्ण है
आचार संहिता के दौरान शासकीय कर्मचारी बगैर किसी परमिशन लिए इस तरह बैठक नहीं कर सकते हैं। ऐसे में अगर वहां कोई राजनीतिक व्यक्ति नहीं मिलता है, इसके बाद भी पंचायत सचिवों पर कार्रवाई होने की संभावना है। मौके पर पहुंची टीम ने तत्काल मौजूद सचिवों के नाम लिखकर पंचनामा बनाया। वहीं प्रतिवेदन बनाकर कार्रवाई के लिए रिटर्निंग ऑफिसर के समक्ष भेजा है।

आरोप-प्रत्यारोप और प्रशासन के जवाब

^सारे नियम कानून की धज्जियां उड़ रही है। प्रशासन पर भरोसा नही है कि वह निष्पक्ष चुनाव करा सकेंगे। एसडीएम साहब जैसे ही आए पूर्व विधायक एवं भाजपा प्रत्याशी जजपाल सिंह जज्जी चले गए। एसडीएम साहब भी उतने दोषी है जितने पूर्व विधायक। प्रजातंत्र के बाद अब मतदान की हत्या करने की कोशिश की जा रही है। हरिसिंह रघुवंशी, जिलाध्यक्ष कांग्रेस।

^सूचना प्राप्त हुई थी कि वेदांत भवन में शासकीय कर्मचारी किसी राजनीतिक व्यक्ति के साथ मीटिंग कर रहे हैं। आचार संहिता में इस तरह शासकीय कर्मचारियों की बैठक प्रतिबंधित है। एफएसटी टीम के साथ पहुंचे तो करीब 40 सचिव थे जिनमें भगदड़ मच गई। जो बच गए उनका पंचनामा बनाया गया है। हमारे पहुंचते ही भगदड़ हो गई थी इसलिए जो वीडियो बनाया है, उससे ही सभी की पहचान हो सकेगी। रोहित रघुवंशी, तहसीलदार अशोकनगर।

^हमारा भौंरा के पंचायत सचिव कैलाश कुशवाह कैंसर से पीड़ित होकर अस्पताल में भर्ती है। इसके बाद हमने फिर मीटिंग बुलाई और राशि एकत्रित कर रहे थे, तभी एफएसटी टीम आ गई। हमारे साथ कोई प्रत्याशी मौजूद नहीं था। रंजीत सिंह यादव, अध्यक्ष जिलाध्यक्ष, सचिव संगठन।

नोट- जब कांग्रेस द्वारा लगाए गए आरोपों को लेकर भाजपा प्रत्याशी जजपाल सिंह जज्जी से बातचीत करने की कोशिश की तो उनसे संपर्क नहीं हो सका। ​​​​​​​

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले कुछ समय से आप अपनी आंतरिक ऊर्जा को पहचानने के लिए जो प्रयास कर रहे हैं, उसकी वजह से आपके व्यक्तित्व व स्वभाव में सकारात्मक परिवर्तन आएंगे। दूसरों के दुख-दर्द व तकलीफ में उनकी सहायता के ...

और पढ़ें