पिच्छिका परिवर्तन:कल राजस्थान में मुनिश्री का पिच्छिका समारोह, जिले से गया प्रतिनिधि मंडल

अशोकनगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अशोकनगर। रिहर्सल करते बच्चे  । - Dainik Bhaskar
अशोकनगर। रिहर्सल करते बच्चे ।
  • युवा वर्ग देगा राजस्थान में होने वाले कार्यक्रम में प्रस्तुति, की तैयारियां

नगर में त्रिकाल चौबीस की स्थापना करा कर तीर्थ का दर्जा दिलाने वाले पूज्य मुनिश्री सुधासागर महाराज का पिच्छिका परिवर्तन समारोह 16 दिसम्बर को चांदखेड़ी में होगा। इस आयोजन में जिले से जैन समाज का प्रतिनिधि मंडल गया है, अपने साथ अशोकनगर में बनी पिच्छिका लेकर जाएगा। साथ ही जैन युवा वर्ग के सदस्यों द्वारा शानदार प्रस्तुति दी जाएगी। जैन युवा वर्ग संरक्षक विजय जैन धुर्रा ने बताया कि इस वर्ष मुनि सुधासागर महाराज का मंगल पावन वर्षोंयोग जिले की सीमा से लगे राजस्थान के चन्द्रोदय तीर्थ चांदखेड़ी में भव्य रूप से सम्पन्न होने के बाद पिच्छिका परिवर्तन समारोह 16 दिसंबर को होगा।

इस हेतु नगर में कई माह पूर्व से पिच्छिका परिवर्तन की तैयारियां चल रही हैं। समारोह में भूगर्भ जिनालय के प्रकटीकरण को गीत नृत्य की प्रस्तुति बेटियां करेंगी। वहीं सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ अन्य भक्ति नृत्यों की तैयारी चल रही हैं जिसे बच्चे प्रस्तुत करेंगे। सालों बाद हो रहे श्रीमद् जिनेन्द्र पंच कल्याण त्रिकाल चौबीस प्रतिष्ठ महामहोत्सव एवं विश्व शांति महायज्ञ का शुभारंभ ध्वजारोहण के साथ होगा। पंचकल्याणक महा महोत्सव के दौरान जन्म कल्याण जूलूस में नगर के महिला संगठन महिला युवा वर्ग द्वारा जन्म कल्याण जूलूस में डाडिया की और सुधासागर महिला मंडल द्वारा विशेष प्रस्तुति दी जाएगी।

महिला युवा वर्ग जन्म कल्याण जुलूस में डांडिया की प्रस्तुति देगी

चांदखेड़ी तीर्थ की गौरव गाथा की होगी प्रस्तुति

देश भर के भक्तों की आस्था के केंद्र चांदखेड़ी वाले बड़े बाबा भगवान आदिनाथ स्वामी के आगमन की कथा को जैन युवा वर्ग के संरक्षक शैलेन्द्र श्रृंगार के नेतृत्व में संगीत के बीच झांकी के साथ ही जीवंत घटनाक्रम की पुरजोर प्रस्तुति कलाकारों द्वारा की जाएगी। इस कथा को संगीतवध कर इसके अतिशय की कहानी जनता के बीच आएगी।

खबरें और भी हैं...