पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वसूली विवाद:प्रदर्शन से पहले ही सॉरी और समझौता बिजली कंपनी का बिल भी भरा

अशोकनगर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बिल बकाया होने पर बिजली काटी तो कर्मचारी को मारा था थप्पड़

एक दिन पहले सामने आए बिजली कर्मचारियों के साथ मारपीट के मामले में शनिवार को नया पेंच आ गया। विवाद के बाद कर्मचारियों पर अभद्रता का आरोप लगाने वाले बाबू रघुवंशी ने बिजली दफ्तर पहुंचकर सार्वजनिक रूप से माफी मांग ली। यानी कर्मचारियों के सामने इस बार नेतागिरी काे भी झुकना पड़ा। वाकया शनिवार सुबह करीब 11 बजे का है। कंपनी कर्मचारियों के साथ मारपीट करने वाले बाबू रघुवंशी विधायक जजपालसिंह जज्जी के साथ बिजली कंपनी कार्यालय पहुंचे। यहां मौजूद सारे बिजली कर्मचारियों के सामने उन्होंने अपनी गलती स्वीकार करते हुए सॉरी बाेलते हुए सार्वजनिक रूप से माफी मांग ली। रघुवंशी के माफी मांगने के बाद विधायक जज्जी ने कंपनी कर्मचारियों को समझाइश दी। तब कहीं जाकर कर्मचारियों को रूख नरम पड़ा। इस दौरान दोनों के बीच समझौता हो गया। ज्ञात रहे शुक्रवार को बिजली कंपनी की टीम विधायक के करीबी माने जाने वाले बाबू रघुवंशी के नाम पर 19 हजार रु. बकाया होने पर कंपनी कर्मचारियों ने मौजूद परिजनों को बकाया नहीं चुकाने पर कनेक्शन काटने की चेतावनी दी। इसपर रघुवंशी ने कर्मचारियों के साथ धक्का मुक्की कर दी। कर्मचारियों ने सारे कनेक्शन काट दिए। वहीं थाने तक पहुंच गए।

प्रदर्शन के लिए एकत्रित हुए थे कर्मचारी
बकाया वसूली टीम के साथ हुई मारपीट के मामले में बिजली कंपनी कर्मचारी आक्रोशित हो गए। सभी ने संबंधित पर सख्त कार्रवाई कराने के लिए मोर्चा खोलने का निर्णय लिया। कर्मचारी काम बंद कर विरोध प्रदर्शन करने ही वाले थे कि एक दिन पहले विवाद करने वाले बाबू रघुवंशी विधायक के साथ कार्यालय पहुंचे। 15-20 मिनट के बाद मामला शांत हो गया।
विधायक जज्जी के करीबी हैं बाबू रघुवंशी
कंपनी कर्मचारियों के साथ मारपीट करने वाले बाबू रघुवंशी अशोकनगर विधायक जजपालसिंह जज्जी के करीबी माने जाते है। यही वजह हैं कि कंपनी कर्मचारियों के साथ यह घटना पूरे शहर में चर्चा का विषय बन गई। आखिरकार मामले को शांत कराने के लिए विधायक जज्जी को ही सामने आना पड़ा। विधायक की समझाइश के बाद मामला शांत हुआ।
समझाइश देकर मामले को शांत कराया है
^टीम के साथ हुए घटनाक्रम को लेकर अन्य कर्मचारियों में भी भय का वातावरण बन रहा था। इसको लेकर कर्मचारी विरोध करने की बात कर ही रहे थे। इसी दौरान विवाद करने वाले से माफी मंगवाते हुए वरिष्ठ जनप्रतिनिधि ने समझाइश दी। अब मामला खत्म हो गया है। उन्होंने बकाया की राशि भी जमा करा दी है।
- श्रवण पटेल, डीई बिजली कंपनी

एक-एक कनेक्शन पर 3 लाख रु. तक बकाया
बकाया राशि बकायादार

1 से 10 हजार तक 2238
10 हजार से 50 हजार 522
50 हजार से एक लाख 41
1 लाख से 3 लाख रु. 28
3 लाख से 10 लाख रु. 03

2832 कनेक्शन काटे 76.68 लाख रु. वसूले
कनेक्शन काटने से लेकर कुर्की जैसी कार्रवाई करते हुए कंपनी ने एक सप्ताह में ही 76.68 लाख रुपए वसूल लिए। इसके लिए कंपनी को 2832 उपभोक्ताओं के कनेक्शन काटना पड़े। कनेक्शन काटने की कार्रवाई के बाद 833 बकायादारों ने 76.68 लाख रुपए जमा करा दिए। बाकी 1999 ने अब तक बकाया जमा नहीं कराया। एक लाख 11 हजार 328 बकायादारों पर 117.19 करोड़ रुपए बकाया हैं।
सरकारी विभागों पर भी करोड़ों का बकाया: कुल 906 शासकीय विभागों पर कंपनी का 6 करोड़ 59 लाख रुपए बकाया है। हालांकि इसके पीछे कंपनी अधिकारियों का तर्क हैं कि शासकीय विभागों की राशि फंड नहीं मिलने के कारण अटकती है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

    और पढ़ें