लॉकडाउन / दोपहर में सन्नाटा, शाम को सब्जी और चाट, पकौड़ी की दुकानों पर लगी भीड़

X

  • ढील के बाद सुबह 9 बजे से शाम 7 बजे तक दुकानें खुलने से बाजार में कम हुई भीड़
  • नगर में बाइक पर बिना मास्क लगाकर घूम रहे दो से तीन लोग
  • नियमों का पालन नहीं होने के कारण कोरोना के संक्रमण का लगातार बढ़ रहा खतरा

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

अशोकनगर. लॉकडाउन चार में सरकार ने बाजार खुलने के समय को बढ़ाया है। इसका लाभ छोटे दुकानदारों को हुआ है। दोपहर दो बजे के बाद बाजार में सन्नाटा पसर जाता है। शहर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ने के बाद बाजार में लोगों की भीड़ में कमी हुई है। सुबह-शाम चाट, पकोड़ी, समोसे की दुकानों हाथ ठेलों और सब्जी विक्रेताओं की दुकानों पर ग्राहकों की भीड़ लग रही है। इन दुकानों पर सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं किया जा रहा है। इन दुकानों पर लोग एक-दूसरे से सटकर खड़े होकर खरीददारी करते हैं। 
बाजार खुलने का समय बढ़ने के बाद बाजार में प्रशासनिक अधिकारियों की आवाजाही भी कम हो गई है। प्रशासनिक टीम सुबह के समय ही बाजार में घूमकर लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई कर रही है। दोपहर और शाम को लोग बिना मास्क लगाकर और एक बाइक पर दो-तीन सवारियां बैठकर जा रही हैं। इससे सोशल डिस्टेंस का उल्लंघन हो रहा है। कोरोना महामारी को लेकर 25 मार्च से लगातार लॉकडाउन लगा है। 25 से 3 मई तक आवश्यक दुकानों को छोड़कर सब कुछ बंद था।
चार मई के बाद से दूसरे और तीसरे लॉकडाउन में प्रशासन ने आवश्यक वस्तुओं के साथ अन्य दुकानों को भी खोलने की इजाजत दे दी थी। इसके साथ ही सुबह 9 से शाम 4 बजे तक बाजार खोलने का समय निर्धारित किया गया था। इससे दुकानदारों को काफी राहत मिली। 18 मई से लॉकडाउन 4 के बाद केंद्र और प्रदेश सरकार की गाइडलाइन आने के बाद जिला प्रशासन ने बाजार खुलने के समय को बढ़ाकर सुबह 7 से शाम 7 बजे तक कर दिया। इसके साथ ही चाट, पकोड़ी, की दुकानों को भी मास्क लगाकर और सोशल डिस्टेंस का पालन करने के साथ दुकान खोलने की अनुमति दे दी। 
संक्रमण के बढ़ने का खतरा लगा रहता है
जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ ही बाजार में लोगों की भीड़ कम हो गई है। दोपहर को कपड़ा, बर्तन, इलेक्ट्रॉनिक्स की दुकानों पर लोगों की भीड़ कम रहती है। लेकिन चाट, पकोड़ी, सब्जी विक्रेताओं के ठेलों पर लोगों की भीड़ रहती है। इन दुकानों पर सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं हो रहा है। लोग एक-दूसरे के पास खड़े होकर खरीददारी कर रहे हैं। इसके साथ ही दोपहिया वाहन पर दो से तीन और चार पहिया वाहनों में भी चार से पांच सवारियां बैठाई जा रही हैं। इससे सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं हो रहा है। वहीं बाजार में बाइक पर घूमने वाले लोग बिना मास्क लगाकर घूम रहे हैं। इससे जिले में संक्रमण के बढ़ने का खतरा लगा रहता है। 
छोटे दुकानदारों को हुआ फायदा
बाजार का समय बढ़ने का लाभ छोटे दुकानदारों को हो रहा है। बाजार में सुबह शाम चाय नाश्ता करने बड़ी संख्या में लोग निकलते हैं। यह लोग सुबह-शाम चाय नाश्ते की दुकानों पर जाकर नाश्ता कर रहे हैं। इससे इन दुकानदारों को लाभ हुआ है। इसके साथ अन्य छोटे दुकानदारों को भी लाभ हुआ है जिनकी दुकानें लॉकडाउन के कारण कई दिनों से बंद पड़ी थीं। इसके बाद भी दोपहर के समय बाजार में सन्नाटा हो रहा है। सुबह-शाम बाजार में खड़े चाट पकौडी और सब्जी फल विक्रेताओं के ठेलों पर लोगों की अच्छी खासी भीड़ लगी रहती है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना