300-500 लोगों के शादी में शामिल होने की मांगी परमिशन:कलेक्टोरेट पहुंचे इवेंट एसोसिएशन के लोग, बोले- दो दिन में हल नहीं निकला तो देंगे सामूहिक गिरफ्तारी

अशोकनगर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कलेक्टोरेट में धरने पर बैठे इवेंट एसोसिएशन के लोग। - Dainik Bhaskar
कलेक्टोरेट में धरने पर बैठे इवेंट एसोसिएशन के लोग।

इस साल 22 अप्रैल से विवाह के शुभ मुहूर्त के साथ शहनाइयों की गूंज सुनाई देने लगेगी लेकिन एक बार फिर शादी समारोहों पर कोरोना का साया छा गया है। जिले में कोरोना संक्रमण के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं। काेराेना की रोकथाम के लिए जिला प्रशासन ने शादी समारोह में शामिल होने वाले लोगों की संख्या तय कर दी है। साथ ही मैरिज गार्डन संचालकों पर भी संकट आ गया है क्योंकि अब लोग पहले की गई बुकिंग कैंसिल करा रहे हैं।

जिसे लेकर इवेंट एसोसिएशन ने सोमवार को कलेक्टोरेट का घेराव किया। एकत्रित होकर कलेक्टोरेट पहुंचे एसोसिएशन के सदस्यों ने सीएम और कलेक्टर के नाम तहसीलदार रोहित रघुवंशी को ज्ञापन दिए। जिसके माध्यम से 2 दिन में निराकरण कराए जाने की मांग की साथ ही चेतावनी दी कि अन्यथा कि स्थिति में सामूहिक रूप से गिरफ्तारी देंगे।

इवेंट एसोसिएशन ने बताया कि टेंट व्यवसाय, डीजे साउंड, हलवाई, बैंड घोड़े, बग्गी, ढोल, लाइट, गार्डन, फूल डेकोरेशन आदि का कारोबार प्रभावित हो रहा है। जिसे देखते हुए शादी विवाह में 300 से 500 लोगों की परमिशन दी जाए। शुक्रवार शाम 6 से सोमवार सुबह 6 बजे तक लगने वाले कर्फ्यू के दौरान शादियों की परमिशन दी जाए। क्योंकि ये बुकिंग पहले ही हो चुकी थी। कई ने बैंक लोन ले रखा है, गोदाम किराए से हैं कर्मचारियों को वेतन देना पड़ रही है।

खबरें और भी हैं...