स्मृति / महान संगीतज्ञ बैजू बावरा की समाधि पर पहुंचते ही शांति का होता है अनुभव

X

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 04:00 AM IST

अशोकनगर. शहर के उभरते गायक संगीत गुरु नहीं मिलने पर महान संगीत सम्राट बैजू बाबरा को ही अपना गुरु मानते हैं। कुछ दिन पहले क्लासिकल कार्यक्रम में शामिल होने से पहले उनकी समाधि पर जाकर पुष्प अर्पित किए थे। उन्होंने कहा कि जब भी उनका मन दुखी या विचलित होता है तब वह उनकी समाधि पर पहुंच जाते हैं। वहां पहुंचते ही उन्हें अपूर्व शांति का अनुभव होता है।
शहर की गायक कलाकार सचिन शेषा ने फेसबुक लाइव के माध्यम से अपनी विशेष पहचान बनाई है। वह गणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस पर हुए एकल गायन कार्यक्रम में प्रथम पुरस्कार प्राप्त कर चुके हैं। भोपाल में हर वर्ष भोजपाल मेले, होशंगाबाद में रामजी बाबा के मेले सहित कई शहरों में हुए बड़े-बड़े कार्यक्रम में अपनी प्रस्तुति दी है। चंदेरी में हुए चंदेरी महोत्सव में भी प्रस्तुति देकर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया था। सचिन कई बड़े कलाकारों की मिमिक्री भी कर लेते हैं। वह राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की भी मिमिक्री कर लेते हैं। वह कई वाद्य यंत्र भी बजा लेते हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना