पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मौसम की आफत:आधी रात के बाद फिर आंधी और बारिश से हुई बर्बादी, कई पेड़, बिजली के पोल गिरे

आष्टा19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • आंधी-बारिश से नगर सहित गांव में 70 से अधिक पोल गिरे, दूसरे दिन भी गुल रही बिजली

शनिवार की शाम को जहां तेज आंधी के साथ मूसलाधार बारिश ने नगर को तहस-नहस कर दिया था। साथ ही नगर में ब्लैक आउट हो गया था। बिजली अमले ने रिमझिम गिरते पानी के बीच देर रात को मरम्मत कर सप्लाई को चालू किया। उसके आधी रात के बाद फिर से आंधी चलना शुरू हो गई तथा तेज बारिश ने जमकर उत्पात मचाया।

इससे फिर से जलभराव हो गया था तथा बिजली के पोल व पेड़ भी गिर गए थे। इसके अलावा लोगों के मकानों के चादरों के छत भी उड़कर जमीन पर पहुंच गए थे। वहीं दुकानों के टीन शेड भी अस्त व्यस्त हो गए थे। इस कारण लोगों को देर रात तक जागकर परेशान होना पड़ा। वहीं रविवार को दिन भर धूप-छांव का मौसम बना रहा। शनिवार की शाम को नगर में तेज आंधी के साथ मूसलाधार बारिश होने से कई बिजली के पोल व पेड़ धराशायी हो गए थे। इससे पूरे नगर में ब्लैक आउट की स्थिति निर्मित हो गई थी। इसके बाद भी देर रात तक रिमझिम पानी गिरता रहा। इससे बिजली कंपनी के कर्मचारियों को सप्लाई चालू करने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। उसके बाद भी मरम्मत कार्य में जुटने से देर रात करीब 9.30 बजे बिजली सुचारू रूप से चालू हो सकी थी।

हालांकि इस बीच बिजली कई बार बंद होती रही। साथ ही नगर में कई जगहों पर जलभराव हो गया था। शनिवार की शाम व देर रात चली आंधी ने नगर के एबी रोड, जनपद, लंगापुरा, पुराना हाईवे मार्ग सहित अन्य जगहों पर लगे बड़े पेड़ भी जमीन से उखड़ गए। वहीं बिजली 33 केवी का ट्रांसफार्मर भी जमींदोज हाे गया था। इसके अलावा 132 सब स्टेशन पर भी फाल्ट आने के बाद बिजली केबल बीच रोड पर गिर गई थी।

हालांकि इससे किसी प्रकार के जान माल का नुकसान नहीं हुआ है। शनिवार व रविवार की दरमियानी रात करीब दो बजे आंधी के साथ मूसलाधार बारिश ने फिर से नुकसान पहुंचाया, लेकिन इस बार ज्यादा नुकसान नहीं हुआ।
घरों व दुकानों के उड़े टीनशेड :

शनिवार की शाम को भयंकर चली आंधी से लंगापुरा में एक घर का टीनशेड का छत उड़कर जमीन पर आ गिरा। वहीं रात दो बजे चली आंधी से काजीपुरा में शेख इमदाद का मकान भी क्षतिग्रस्त हो गया। जिनकी कुटी मंजूर होने के बाद भी नपा ने राशि नहीं डाली है।
नुकसान पर रविवार को मरम्मत करते दिखे लोग
शनिवार व रविवार के बीच चली आंधी ने दुकानों व मकानों को नुकसान पहुंचाया है। जो रविवार को मौसम खुलने के बाद मरम्मत करते हुए दिखाई दिए। इसके अलावा आंधी में उड़ी चादरों को इधर-उधर से उठाकर लाए।
पोल गिरने से दूसरे दिन भी अंधेरे में डूबे रहे गांव
आंधी व बारिश से नगर के अलावा ग्रामीण क्षेत्र भी अछूते नहीं रहे। तेज आंधी के कारण ग्रामीण क्षेत्रों में भी करीब 70 से अधिक बिजली के पोल गिर गए। इस वजह से कई गांव अंधेरे में डूबे रहे। इसके अलावा 100 के करीब पेड़ गिरे हैं।
बारिश के पूर्व ड्रेनेज सिस्टम सुधरना जरूरी :

बेमौसम हुई बारिश ने नगर पालिका की सफाई व्यवस्था की पोल खोल दी है। इसे देखते हुए नपा को बारिश के पूर्व ड्रेनेज सिस्टम को लेकर सफाई अभियान चलाने पर जोर देना चाहिए। अन्यथा पिछले साल की तरह बारिश में जल भराव की गंभीर समस्या का सामना दुकानदारों व रहवासियों को करना पड़ेगा।
नगर में सफाई अभियान चलाया जाएगा
बारिश के पूर्व जलभराव वाले स्थानों को चिन्हित करने के निर्देश आपदा प्रबंधन की बैठक में दिए है। इसके अलावा सफाई अभियान चलाया जाएगा।
-एनके पारसनिया, सीएमओ, नपा

आंधी- बारिश से नुकसान की सूचना मिली है
आंधी व बारिश होने से नगर व ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को नुकसान होने की सूचना मिली है इसका आकलन कराया जाएगा।
-आरएस मरावी, तहसीलदार

खबरें और भी हैं...