पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

फ्रेंडशिप डे:दो दोस्त जो कभी जुदा नहीं हुए, हर साल लगाते हैं एक पाैधा

आष्टा3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 48 सालों की दोस्ती में आज तक कोई दरार नहीं डाल पाया
Advertisement
Advertisement

बचपन से परवान चढ़ी उनकी दोस्ती आज गांव से लेकर शहर तक एक मिसाल बन गई है। गांव से शहर तक आने के बाद भी उनकी 48 सालों की दोस्ती में किसी प्रकार की दरार नहीं आई है। जो दोस्ती को बढ़ाने के साथ ही पर्यावरण को लेकर भी गंभीर हैं। हर साल मित्रता दिवस पर दोनों एक पौधा जरूर रोपते हैं। साथ ही दोनों ने ही शिक्षा को ही अपने पेशे के रूप में अपनाया है। जो सरकारी स्कूलों में शिक्षक के पद पर पदस्थ हैं।

तहसील के गांव खानदौरापुर भंवरी के निवासी अशोक कुमार परमार व शंकर लाल परमार की बचपन की सच्ची दोस्ती आज भी कायम है। इन दोनों ने अपनी प्राथमिक शिक्षा गांव के ही प्रायमरी स्कूल की शिक्षा से लेकर हायर सेकंडरी आष्टा तथा शासकीय महाविद्यालय सीहोर तक साथ-साथ उत्तीर्ण की। दोनों अपनी कक्षाओं में टॉपर रहे हैं। अशोक परमार जहां अध्यापक वर्ग 2 में बागेर में पढ़ाते हैं तथा शंकर लाल परमार अध्यापक वर्ग 2 में शिक्षक के रूप में पदस्थ हैं।

इनकी मित्रता का आलम यह है कि गांव व शहर में इनके पुराने मित्र अशोक को शंकर व शंकर को अशोक परमार के नाम से पहचानते हैं। दोनों के बीच आज तक किसी प्रकार मनमुटाव नहीं हुआ। अपनी दोस्ती को यादगार बनाने के लिए आष्टा में पुष्प विद्यालय के पास दोनों ने एक साथ और एक ही नक्शे से मकान बनाया है। जो इनकी सच्ची दोस्ती को प्रदर्शित करती है। कंटेनमेंट में होने से नहीं लगा सके पौधे: इस बार दोनों मित्रों के घर कंटेनमेंट जोन में आने के कारण वह फ्रेंडशिप डे पर इस बार अपने पौधारोपण अभियान को आगे नहीं बढ़ा सके।

दोस्ती का उददेश्य: इन दोनों ने आज आष्टा क्षेत्र के लिए शिक्षा के क्षेत्र में उपयोग आने वाली डीएड एवं बीएड के कोर्स की भी उपलब्धता समिति के माध्यम से करवाई। इनका लक्ष्य है कि हमारे क्षेत्र में गरीबों के लिए एक निशुल्क चिकित्सालय की स्थापना हो। जिसमें सभी समाज के लोग अपना-अपना योगदान देवें। जिससे हमारे क्षेत्र के गरीब व कमजोर वर्ग के लोगों को बाहर जाना न पड़े।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज आप अपनी रोजमर्रा की व्यस्त दिनचर्या में से कुछ समय सुकून और मौजमस्ती के लिए भी निकालेंगे। मित्रों व रिश्तेदारों के साथ समय व्यतीत होगा। घर की साज-सज्जा संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत हो...

और पढ़ें

Advertisement