• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Bareli
  • 127 Pandas From 42 Villages Came To Dance The Molds; Devotees Worshiped The Blessings, Pandas Were Respected By Hius.

मड़ई मेला:ढाले नचाने वाले 42 गांव के 127 पंडे आए‎; श्रद्धालुओं ने पूजा कर लिया आशीर्वाद,पंडाओं का हिंउस ने किया सम्मान‎

बरेली24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

प्रतिवर्ष अनुसार इस वर्ष भी अमावस्या की दूज को‎ नगर के पशु बाजार में मड़ई मेले का आयोजन किया गया। जिसमें हजारों श्रद्धालुओं ने पहुंचकर माता चंडी की पूजन ‎अर्चन कर सुख समृद्ध की कामना की और मेले का लुत्फ ‎उठाया। ग्रामीण क्षेत्र से ढालों को नचाने वाले पंडा बड़े ही ‎हर्षोल्लास के साथ इस मेले में भाग लेते हैं।

प्रतिवर्ष‎ अनुसार इस वर्ष भी नगर एवं ग्रामीण क्षेत्र से आने वाले‎ पंडा एवं ढाले नचाने वालो को हिंदू उत्सव समिति के‎ तत्वाधान में पूर्व विधायक रामकिशन पटेल के द्वारा अंग‎ वस्त्र एवं श्रीफल भेंट कर सम्मान किया गया इस दौरान ‎लगभग 42 गांव से आने वाले 127 पंडाओं का सम्मान‎ किया। मेले में परिवार सहित आए श्रद्घालुओं ने मडई मेले‎ में ढालों का नृत्य देखा और खरीददारी भी की।दरअसल‎ गांव गांव से ग्रामीण ढाले लेकर मड़ई मेले में पहुंचते हैं,‎ यहां पर सब एकत्रित होकर ढालों का नृत्य करते हैं। इस‎ दौरान हिंदू उत्सव समिति और आदिवासी समाज मिलकर‎ व्यवस्थाएं जुटाते हैं।‎

सजाई‎ जाती है‎ चंडी माता‎ की चौकी‎
ग्रामीण चंडी माता की चौकी सजा कर विशेष पूजन अर्चन की जाती है,इस दौरान नगर एवं आसपास के‎ ग्रामीण क्षेत्रों से ढाले लेकर वाले श्रद्धालु एवं पंडा के द्वारा बड़े ही हर्षोल्लास के साथ आते हैं। जहां पूजन के‎ दौरान ढालों को पूरे मेला परिसर की परिक्रमा करवाई गई।

इस मेले का आयोजन आदिवासी समाज के द्वारा‎ आयोजित किया जाता है वहीं मेला की व्यवस्था बनाए रखने में पुलिस प्रशासन के साथ-साथ हिंदू उत्सव‎ समिति के द्वारा भी पूरा पूरा सहयोग किया गया। मेले में व्यापारियों के द्वारा जगह-जगह लगाई गई मिठाई ओर‎ खिलौने की बिक्री की जाती है।‎

खबरें और भी हैं...