पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

खबर का असर:निजी स्कूल ने अब रिवर्ट टीसी बना छात्र को 11वीं क्लास का प्रमोट सर्टिफिकेट थमाया

बाड़ी2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • गंभीर बीमारी से पीड़ित छात्र के मामले की शिक्षा विभाग करेगा जांच

सैंपऊ रोड निवासी असाध्य बीमारी से पीड़ित छात्र के कक्षा-10 की टीसी काटे जाने के बाद एक वर्ष के खराब होने का मामला भास्कर में प्रकाशित होने के बाद स्कूल प्रशासन ने मामले में अपनी गलती सुधारते हुए छात्र को रिवर्ट टीसी जारी की है। छात्र को 11वीं क्लास में प्रमोट करने का प्रमोशन सर्टिफिकेट भी दिया है। इससे छात्र सहित उसके परिजन संतुष्ट हैं। परिजनों ने दैनिक भास्कर का आभार जताया है।

वहीं मामले को लेकर शिक्षा विभाग ने जांच की बात कही है। बता दें कि सैंपऊ रोड निवासी पीड़ित छात्र दक्ष अग्रवाल पुत्र गौरीशंकर के असाध्य बीमारी होने के बाद जब वह सरकारी स्कूल में पढ़ने के लिए निजी स्कूल के पास टीसी लेने पहुंचा तो उन्होंने टीसी देने की एवज में बीस हजार रुपए की मांग की थी और रुपए नहीं देने पर 10वीं पास की टीसी थमा दी। जिसमें छात्र का एक वर्ष खराब हो रहा था। साथ में उसे 12वीं कक्षा में भी प्रवेश नहीं मिल रहा था।

पीड़ित छात्र की गुहार पर भास्कर ने खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था। जिसके बाद मंगलवार को स्कूल प्रशासन ने रिवर्ट टीसी जारी की है। मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी दाऊदयाल शर्मा ने मामले की जांच की बात कही है।

खबरें और भी हैं...