पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

तेजी से बढ़ रहा कोरोना:पीएचई के ईई की मौत; अब तक 1061 संक्रमित

ब्यावरा11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जून के महीने से बढ़ना शुरू हुए मरीज, अगस्त सितंबर में सबसे ज्यादा मरीज मिले

जिले में कोरोना (कोविड-19) का वायरस अब बेकाबू हो रहा है। पीएचई के ईई की भोपाल में मौत हो गई है। जिले में अब तक संक्रमण के 1061 मामले सामने आ चुके हैं। इसमें भी जून के महीने से मरीजों की संख्या में इजाफा होना शुरू हुआ है। अगस्त और सितम्बर के महीने में सबसे ज्यादा मरीज सामने आए हैं। इस मामले में स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि स्क्रीनिंग की संख्या बढ़ने के कारण केसों की संख्या में भी इजाफा हुआ है, हालांकि दूसरा बड़ा कारण लॉकडाउन और अनलॉक भी माना जा रहा है। मार्च से मई तक लॉकडाउन था। लोग घरों में थे तो संक्रमण का खतरा कम था, जैसे ही अनलाॅक 01 के बाद से चीजें खुलना शुरू हुई लोग घरों से बाहर निकले तो संक्रमण के केस भी बढ़े हैं। ऐसी स्थिति में जब बाजार से लेकर तमाम चीजें खुलने की स्थिति में आ गयी हैं, तब डॉक्टरों की सलाह है कि अब कोरोना के संक्रमण के बचाव के लिए हमें न्यू नार्मल लाइफ जीने की आदत डालने की जरूरत है। बहरहाल, इन सबके बीच अच्छी बात यह भी है कि एक ओर जहां कोरोना के केस बढ़ रहे हैं, वहीं मरीज ठीक भी हो रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक अब तक 878 मरीज ठीक हो चुके हैँ, इस लिहाज के जिले में कुल एक्टिव केस 168 ही हैं। हालांकि, कोरोना के संक्रमण की चपेट में आने से जिले में अब तक 16 लोगांे की मौत हो चुकी है।

राजगढ़ एसपी भी पाजिटिव
इधर, राजगढ़ एसपी प्रदीप शर्मा की रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आई है। हालांकि, वे स्वस्थ हैं। उन्होंने बताया कि वे स्वस्थ हैं और प्रोटोकाल का पालन कर रहे हैं।
सांसद दिल्ली में होम आईसोलेट
उधर, सांसद रोडमल नागर भी संक्रमित होने के बाद दिल्ली में होम आइसोलेशन में चले गये हैं। बता दें कि कुछ दिन पहले उनके परिवार के सदस्यों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी, उसके बाद उनकी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है।
डाॅक्टराें ने कहा- अब न्यू नार्मल की थीम पर जीने की आदत डालें
कोरोना के बढ़ते मरीजाें को देखते हुए अब डॉक्टर न्यू नार्मल थीम पर जीवन जीने की सलाह दे रहे हैं। एमडी मेडिसिन डॉ सुधीर कलावत के अनुसार न्यू नार्मल मतलब यह है कि जैसे पहले आम दिनों में नार्मल जिंदगी हम जीते हैं, वैसे ही जीएं, लेकिन उसके साथ तीन बातें आदत में शामिल करें, पहली मास्क लगाना, दूसरी सामाजिक दूरी का ख्याल रखना और तीसरी सैनेटाइजर का उपयोग करना, क्योंकि कोरोना के संक्रमण से बचाव का यही एक तरीका है।

भोपाल में भर्ती थे कार्यपालन यंत्री अहिरवार
राजगढ़ पीएचई विभाग के कार्यपालन यंत्री बालकृष्ण अहिरवार का मंगलवार को निधन हो गया है वह कोविड-19 वायरस के कारण आईसीयू में भोपाल अस्पताल भर्ती थे राजगढ़ में 15 दिन पहले पॉजिटिव रिपोर्ट आई थी उसके बाद से भोपाल एम्स में भर्ती थे
लापरवाही बरकरार, प्रशासन बार-बार कर रहा अपील
एक ओर जिले में कोरोना के केस बढ़ रहे हैं वहीं, दूसरी ओर अनलॉक-04 जब से लागू हुआ है तब से बाजारों में भीड़ भी बढ़ गयी है, इसमें एक वर्ग तो ऐसा है जो पूरी तरह से कोरोना काल में जारी प्रोटोकाल का पालन कर रहा है, वहीं एक वर्ग ऐसा भी है, जो प्रोटोकाल को गंभीरता से नहीं ले रहा है। शहर के कई हिस्सों जैसे बैंक, चौराहे आदि स्थानों में लोग भीड़ जमा कर लेते हैं, ऐसे में संक्रमण का खतरा बढ़ रहा है। जबकि, प्रशासनिक स्तर पर आए दिन प्रोटोकाल के पालन को लेकर अपील जारी की जा रही है। इसके बावजूद लोग ध्यान नहीं दे रहे हैं।

ब्यावरा में दो दिन में 12 नए मरीज मिले
ब्यावरा। शहर में काेराेना पॉजिटिव मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है। सोमवार देरशाम से लेकर मंगलवार तक की रिपोर्ट को मिलाकर 12 नए मरीज ब्यावरा में मिले हैं। सोमवार देररात को यहां एक साथ 7 नए मरीज मिले थे, वहीं मंगलवार को 5 नए मरीज मिले हैं। अब शहर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 377 हो गई है। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार बरेखड़ा गांव निवासी 33 वर्षीय मीडिया कर्मी, 3 दिन पूर्व पॉजिटिव पाए गए गुना नाके निवासी टाइल्स कारोबारी के दो परिजनों सहित अन्य 12 मरीज शामिल है। वहीं मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने शहर के अलग अलग हिस्सों में जाकर पूर्व में कोरोना पॉजिटिव पाए गए मरीजों के संपर्क में आए उनके परिजनों व अन्य नए सैंपल लिए हैं। जिन के सैंपल लिए गए हैं, उन्हें होम क्वारेंटाइन किया गया।

जानिए... मार्च से अब तक किस माह में कितने मरीज
माह मरीज

मार्च 00
अप्रैल 00
मई 01
जून 96
जुलाई 311
अगस्त 845
15 सितम्बर तक 1061

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में हैं। आपकी मेहनत और आत्मविश्वास की वजह से सफलता आपके नजदीक रहेगी। सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा तथा आपका उदारवादी रुख आपके लिए सम्मान दायक रहेगा। कोई बड़ा निवेश भी करने के लिए...

और पढ़ें