कलेक्टर ने वीडियो कांफ्रेंस में दिए निर्देश:शिक्षक अब घर-घर जाकर ढूंढ़ेंगे सर्दी-खांसी और बुखार के मरीज

ब्यावरा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सर्दी-खांसी और बुखार के मरीजों को तलाशने का काम अब शिक्षकों को सौंपा गया है। इसके लिए शहर और ग्रामीण क्षेत्रों में अलग-अलग शिक्षकों की ड्यूटी लगाई गई है। इसके लिए निर्देश कलेक्टर नीरज सिंह ने बुधवार को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से दिए। एसडीएम निधि सिंह ने बताया कि शहरी क्षेत्र में 150 और ग्रामीण क्षेत्र में करीब एक हजार शिक्षकों की ड्यूटी लगाई गई है।

शिक्षक रोज अपने-अपने क्षेत्र के घर-घर में जाएंगे और सर्दी-खांसी और बुखार के मरीज तलाश करेंगे। इस सर्वे के दौरान मरीज मिलने पर उन्हें होम क्वारेंटाइन किया जाएगा। साथ ही संबंधित मरीजों को किट उपलब्ध कराई जाएगी। साथ ही दवा के लिए सलाह दी जाएगी। जनपद पंचायत स्तर से ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षकों की ड्यूटी लगाई गई है, जबकि शहर में नगर पालिका स्तर से यह काम होगा। शिक्षकों को अपनी रिपोर्ट भी अधिकारियों को रोजाना देना होगी।

इसके साथ ही लोगों को वैक्सीनेशन के लिए भी शिक्षक प्रेरित करेंगे, क्योंकि वैक्सीनेशन की गति भी फिलहाल दीे है। बता दें 2 दिन पहले ही कमिश्नर में बैठक लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना के मरीज खोजने और वैक्सीनेशन की गति बढ़ाने के निर्देश कलेक्टर सहित सभी एसडीएम को दिए थे।

खबरें और भी हैं...