लापरवाही:अस्पताल की ओपडी समय से नहीं खुल रही‎; बायोमेट्रिक मशीन नहीं‎ लगाई और वेतन निकाला‎

ब्यावरा‎एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

डॉक्टर अपनी मर्जी से अस्पताल में ‎आना-जाना कर रहे हैं। ओपीडी के ‎समय मरीजों को डॉक्टर नहीं‎ मिलते उनके चेंबर ओं में ताले‎ लटके रहते हैं। सिविल अस्पताल‎ में सुबह 9 बजे ओपीडी का समय ‎ रहता है, लेकिन 10 के बाद ही‎ डॉक्टर पहुंच रहे हैं। वही लंच टाइम‎ के बाद तो ओपीडी में कई डॉक्टर ‎पहुंचते ही नहीं हैं।

यह मात्र ड्यूटी ‎ डॉक्टर के भरोसे अस्पताल‎ संचालित होता है। शनिवार को भी‎ छुट्टी ना होने के बावजूद ओपीडी में‎ कई डॉक्टर नहीं पहुंचे। ओपीडी में‎ डॉक्टर केवल 2 से 3 घंटे ही बैठते‎ हैं।‎ वहीं 25 सितंबर को‎ सीएमएचओ द्वारा दिए गए निर्देश‎ का पालन भी नहीं हो पाया है।‎

सीएमएचओ ने 3 दिन के भीतर‎ बायोमेट्रिक मशीन लगाने के निर्देश‎ दिए थे, लेकिन अभी तक मशीन‎ लगना तो दूर इस संबंध में कोई‎ कार्रवाई तक नहीं हो सकी है।‎ जबकि सीएमएचओ द्वारा कहा गया‎ था कि अगर बायोमेट्रिक मशीन‎ नहीं लगेगी तो अक्टूबर माह का‎ वेतन रोक लिया जाएगा, जबकि‎ वेतन भी जारी कर दिया गया है।‎ अभी तक मशीन नहीं लगाई गई है।‎

गंभीर लापरवाही है‎

  • तीज-त्याेहार का टाइम था इसलिए‎ वेतन दे दिया होगा, लेकिन अगर‎ बायोमेट्रिक नहीं लगी तो गंभीर‎ लापरवाही है, मैं तुरंत पता करवाता‎ हूं। डॉक्टर समय पर ओपीडी में‎ आएं और मरीजों को बेहतर सेवाएं‎ मिले इसीलिए बायोमेट्रिक लगा रहे‎ हैं। - डॉ. एस यदु राज,‎ सीएमएचओ राजगढ़‎
खबरें और भी हैं...