जानलेवा गड्ढे:खस्ताहाल सड़कें बारिश से पूरी बर्बाद लोग खुद डलवा रहे घरों के आगे चूरी

ब्यावरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सहस्त्राब्दी नगर में घर के आगे सड़क को चलने लायक बनाने के लिए गड्ढों को भरवाने कमलेश चौहान ने निजी खर्च पर डलवाई चूरी। - Dainik Bhaskar
सहस्त्राब्दी नगर में घर के आगे सड़क को चलने लायक बनाने के लिए गड्ढों को भरवाने कमलेश चौहान ने निजी खर्च पर डलवाई चूरी।
  • घर के सामने की सड़कों को चलने लायक बना रहे लोग

पहले से खस्ताहाल शहर की सड़कों को तेज बारिश ने खतरनाक रूप दे दिया है। मुख्य सड़कों के साथ कॉलोनियों के रास्तों पर गड्ढे ही गड्ढे हो गए हैं। इन रास्तों पर पैदल और वाहन से चलने में आ रही मुश्किलों के चलते लोग नगरपालिका में सड़कों की मरम्मत के लिए गुहार लगा रहे हैं। लोगों का कहना है कि सड़क नहीं बन पा रही है तो कम से कम चूरी और गिट्टी ही डलवा दी जाए, ताकि गड्ढे भर जाए और लोगों को राहत मिल सके। लेकिन इसको लेकर भी नगरपालिका में सुनवाई नहीं हो पा रही है। इससे अब लोग खुद ही 2 से 5 हजार रुपए खर्च कर अपने घरों के आगे सड़क के गड्ढों में चूरी गिट्टी डलवा रहे हैं। इस अतिरिक्त खर्चे से लोगों के घर खर्च का बोझ बढ़ गया है।

लोगों का कहना है कि दो से 5 हजार रुपए खर्च करने पर महीने की आय प्रभावित हो रही है। शताब्दी नगर निवासी कमलेश चौहान ने बताया कि नगरपालिका को सड़क के गड्ढों में गिट्टी के लिए निवेदन किया था, पर कोई सुनवाई नहीं हुई तो निजी खर्च पर यह काम करवा रहा हूं। इसी तरह बिजली कंपनी के ऑफिस के पीछे शहीद कॉलोनी में रहने वाले राजेश जैन ने बताया कि उनके घर के सामने का रास्ता गड्ढों में तब्दील हो गया है। सड़क पर पैदल चलने तक की जगह नहीं बची है। लेकिन नगर पालिका इन रास्तों को नहीं सुधरवा रही है। लोग खुद ही रुपए खर्च कर सड़कों को सुधरवाने का काम कर रहे हैं।

मुख्य सड़कों के गड्ढे हुए जानलेवा: इधर शहर की मुख्य सड़कों के गड्ढे जानलेवा हो गए हैं। मुल्तानपुरा रोड इंदौर नाका के पास अजनार नदी के पुल पर गड्ढे 5-5 फीट के आकार के हो गए हैं। इस सड़क से सबसे ज्यादा ट्रैफिक गुजरता है। इसी के साथ अस्पताल रोड जो पहले से गड्ढों के कारण खस्ताहाल थी अब इन गड्ढों का आकार बारिश के पानी से बड़ा होकर यहां गड्ढे ही गड्ढे नजर आ रहे हैं। इसी के साथ राजगढ़ रोड भी गड्ढों में तब्दील हो चुकी है। डामर की इस रोड पर कई गड्ढे हो गए हैं। शहर के अपना नगर, शिवाजी नगर, तुलसी नगर, कर्मचारी कॉलोनी, सहस्त्राब्दी नगर में सड़कों की हालत अधिक खराब है।

लाेगाें ने कहा- रोड बनाना न सही गिट्टी-चूरी ही डलवा दी जाए

बारिश के कारण खदान से नहीं हो पा रही गिट्टी की खुदाई

बारिश के कारण 3 दिन से खदान से गिट्टी की खुदाई नहीं हो पा रही है। इसके पहले वार्ड 17, 18, 6, 4, 7, 8 आदि में करीब 50 से 60 ट्रॉली गिट्टी डलवा चुके हैं। मुख्य सड़कों पर भी गड्ढों में गिट्टी डलवा रहे हैं। कर्मचारी कॉलोनी जो नपा क्षेत्र में नहीं है वहां भी गड्ढे होने पर लोगों की सहूलियत के लिए गिट्टी डलवाई है। सड़कों के निर्माण का काम बारिश के बाद ही हो पाएगा।
-रूपेश नेताम, प्रभारी सीएमओ, नपा

खबरें और भी हैं...