2 परिवार‎ में खूनी संघर्ष:रास्ते में वाहन खड़े करने पर ग्रहणी गांव में 2 परिवार‎ में खूनी संघर्ष, , 8 गंभीर में 2 विदिशा रेफर, 1 की मौत‎

गंजबासौदा‎22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • गांव में राजपूत और कोटवार परिवार में 4 साल पहले भी हो चुका है झगड़ा‎

ग्राम पंचायत आगासोद के‎ अंतर्गत ग्रहणी गांव में पुरानी‎ रंजिश को लेकर राजपूत और‎ कोटवार परिवार में हुए संघर्ष में‎ दोनों पक्षों के 8 लोग गंभीर रूप‎ से घायल हो गए। इनमें से एक‎ महिला सहित 2 लोगों को उपचार‎ के लिए जिला अस्पताल विदिशा‎ रेफर किया गया। इनमें से 65‎ साल के मुन्नालाल राजपूत की‎ उपचार के दौरान मौत हो गई।‎ एसडीओपी भारतभूषण शर्मा ने‎ बताया कि कुछ गंभीर घायलों को‎ भोपाल भी भेजा गया है।

घायलों‎ में एक व्यक्ति मुन्नालाल की मौत‎ हो चुकी है। घटना रास्ते में खड़े‎ वाहनों को लेकर हुई। प्राप्त‎ जानकारी के मुताबिक राजपूत‎ परिवार के लोग जिस रास्ते से‎ अपने खेत आते जाते हैं, उस‎ रास्ते पर दूसरे पक्ष अर्थात‎ कोटवार परिवार का मकान है।‎ वह मकान के सामने वाहन खड़ा‎ कर देता है।

इससे सड़क संकरी‎ हो जाती है। इस वजह से दूसरे‎ वाहन नहीं निकल पाते। इस बात‎ को लेकर दोनों पक्षों में 4 साल‎ पूर्व भी विवाद हो चुका है।‎ शुक्रवार दोपहर में राजपूत परिवार‎ के लोग खेत पर जा रहे थे। रास्ते‎ में वाहन खड़े थे। उन्हीं को हटाने‎ को लेकर कहासुनी हुई।‎

मीडिया को बातचीत से रोका‎
सिटी थाना प्रभारी सुमी देसाई ने बताया कि‎ दोनों पक्षों के खिलाफ मामले दर्ज किए गए हैं।‎ शासकीय जन चिकित्सालय में घायल 20‎ मिनट तक इलाज का इंतजार रहे। जब हंगामा‎ हुआ तो उनका उपचार प्रारंभ किया गया। इस‎ दौरान वहां मौजूद मीडिया कर्मियों को घायलों‎ के परिवारजनों से बातचीत करने से रोका‎ गया। उनके खिलाफ शासकीय काम में बाधा‎ डालने की तहरीर भेजी गई।‎

दोनों पक्षों पर केस दर्ज‎
दोनों पक्षों में हुए विवाद में एक‎ ओर से 65 वर्षीय मुन्नालाल, 35‎ वर्षीय संग्राम सिंह, 32 वर्षीय‎ संगीता, 30 वर्षीय लेखराज व 33‎ वर्षीय सुरेंद्र सिंह राजपूत घायल हो‎ गए। जबकि अहिरवार परिवार में‎ 32 वर्षीय शंभू सिंह, 65 वर्षीय‎ रामश्री बाई, 36 वर्षीय कमल लाल‎ और महेंद्र सिंह अहिरवार घायल‎ हुए।

इन सभी को झगड़े के बाद‎ रक्त रंजित अवस्था में शासकीय‎ चिकित्सालय लाया गया। इनमें से‎ शंभू, रामश्री बाई सहित संग्राम‎ सिंह, मुन्ना लाल को विदिशा रेफर‎ किया गया। इनकी हालत गंभीर‎ बताई जा रही है।‎

खबरें और भी हैं...