पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सुरक्षा-सेहत पर जोर:बमोरी विधानसभा के 116 मतदान केंद्र गुना ब्लॉक में, 2018 की तुलना में इस बार 11042 मतदाता अधिक

गुनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 95 अति संवेदनशील केंद्रों पर स्पेशल निगरानी, भीड़ न हो इसलिए 41 सहायक केंद्र बनाए

3 नबंवर को होने वाले बमोरी उप चुनाव को लेकर रोडमैप तैयार किया गया है। इस बार सबसे ज्यादा जोर सेहत और सुरक्षा पर दिया गया है। कोरोना से पहली बार 41 सहायक केंद्र बनाए गए हैं। वहीं 95 ऐसे केंद्रों की पहचान की गई है, जहां विवाद या झगड़े का अंदेशा है? 2018 में हुए विधानसभा चुनावों में मतदाताओं की संख्या 1 लाख 95 हजार के लगभग थी, लेकिन अब बढ़कर 2 लाख 6 हजार के पहुंच गई है। मतदाता बढ़ने के साथ ही सुरक्षा-व्यवस्था एवं अमले भी बढ़ाया है। हर हरकत पर नजर रखने के लिए अतिरिक्त व्यवस्थाएं भी की हैं। कई केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। वहीं वेबकॉस्टिंग से भी नजर रखी जाएगी। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने कहा है कि हम पूरी तरह तैयार हैं, कहीं पर भी कोई कमी नहीं है। बमोरी उप चुनावों के लिए मतदान केंद्र 276 हैं, लेकिन एक हजार से ज्यादा मतदाता वाले स्थानों पर सहायक केंद्र भी बनाए गए हैं, इनकी संख्या 41 है। इस तरह कुल मतदान केंद्र 317 हैं। खास बात यह है कि चुनाव तो बमोरी विधानसभा क्षेत्र का है, लेकिन इसमें गुना ब्लॉक का भी बड़ा हिस्सा शामिल है, इसलिए गुना ग्रामीण में ही 116 केंद्र बनाए गए हैं।

यूथ इस चुनाव का फैसला तय करेंगे
बमोरी विधानसभा के उप चुनाव के लिए मतदाताओं की स्थिति साफ हो गई है। बमोरी विधानसभा की कुल जनसंख्या 3 लाख 53 हजार 14 है। वहीं मतदाता 2 लाख 6 हजार 127 है। जो पिछले विधानसभा चुनाव के कुल मतदाता से 11 हजार 42 अधिक हैं। अगर देखा जाए तो इसमें महिलाएं 98 हजार 776 हैं। यूथ मतदाताओं को दो हिस्सों में रखा गया है। एक 18 से 19 वर्ष है, इनका प्रतिशत 3 है, जबकि 20 से 29 वर्ष तक के यूथ मतदाता 31 प्रतिशत है। यानी यह संख्या 63 हजार 932 है। यूथ महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि वे किसी भी परिस्थिति में मतदान करने जरूर जाते हैं।

सख्ती: बदमाशों पर कार्रवाई
चुनाव आचार संहिता लगने के बाद से ही पुलिस ने जिले भर में लगातार कार्रवाई की, एसपी ने बताया कि 4 बदमाश राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत जेल में हैं, 28 लोगों को जिला बदर किया गया है। 2 हजार ऐसे लोगों की पहचान की, जो शरारत कर सकते थे, इसलिए इन बाउंड ओवर किया है। 350 प्रकरण अवैध शराब के बनाए गए हैं। वहीं 25 प्रकरण आर्म्स एक्ट के तहत दर्ज हुए हैं।

निगरानी: 1800 पुलिस बल रहेगा
चुनावों के लिए पर्याप्त फोर्स रहेगा। एसपी राजेश कुमार सिंह ने बताया कि अति संवेदनशील केंद्रों पर सख्त निगरानी होगी, यहां केंद्रीय बल तैनात रहेगा। कहीं पर भी विवाद की स्थिति न बने, इससे निपटने के लिए भी अतिरिक्त बल रहेगा। चुनाव के लिए 1800 से अधिक बल की तैनाती होगी। जिसमें 1 हजार तो गुना का बल रहेगा, शेष बाहर से बल आएगा। एसपी ने कहा कि अगर किसी मतदाता को कोई डराता है, धमकाता है तो वह सीधे पुलिस में शिकायत करें।

मतदान के लिए हम पूरी तरह तैयार हैं
^चुनाव आयोग ने जो दिशा-निर्देश दिए थे उसके मुताबिक बमोरी उप चुनाव की पूरी तैयारी कर ली हैं, निष्पक्ष और शांति पूर्णढंग से चुनाव होगा। 35 सेक्टर ऑफिसर मौजूद रहेगे, इसके अलावा पुलिस के साथ मिलकर मजिस्ट्रेट का दल बनाया है, जो सतत निगरानी करेगा। जिला मुख्यालय पर कंट्रोल रूम रहेंगा, जहां सूचना प्राप्त होते ही तत्काल कार्रवाई होगी। हर केंद्र पर पर्याप्त सुरक्षा बल के अलावा गोपनीय तरीके से भी अमला निगरानी करेगा, ताकि कोई शरारत न कर सके।
-कुमार पुरुषोत्तम, जिला निर्वाचन अधिकारी, एवं कलेक्टर

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिस्थिति तथा समय में तालमेल बिठाकर कार्य करने में सक्षम रहेंगे। माता-पिता तथा बुजुर्गों के प्रति मन में सेवा भाव बना रहेगा। विद्यार्थी तथा युवा अपने अध्ययन तथा कैरियर के प्रति पूरी तरह फोकस ...

और पढ़ें