... जब क्लीनिक के सामने मिली मरीजों की भीड़:एसडीएम जांच करने पहुंचीं तो उनके सामने ही खड़े थे करीब 200 लोग, लगाया जुर्माना

गुना6 महीने पहले
डॉक्टर की क्लीनिक पर लगी मरीजों की भीड़।

एक तरफ तो प्रशासन कोरोना से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाने के जतन कर रहा है। ग्रामीण इलाकों में तक दीवार लेखन आदि के माध्यम से लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने का आग्रह किया जा रहा है।

वहीँ, दूसरी तरफ शहर के बीचों -बीच निजी डॉक्टरों द्वारा दरवाजे पर मरीजों भीड़ लगवाई जा रही है। न तो वहां कोरोना से बचाव को लेकर कोशिश की जा रही है और न ही गाइडलाइन का पालन किया जा रहा है। डॉक्टर अंदर कैबिन में मरीज देख रहे हैं। वहीँं, क्लिनिक के बाहर मरीजों का हुजूम लगा है।

ऐसा ही मामला गुरुवार को सामने आया। यहां नयापुरा में डॉक्टर आरबी धाकड़ की क्लिनिक के सामने करीब दो सौ लोग खड़े थे। यहां इनकी क्लिनिक और एक हॉस्पिटल भी सामने है। ऐसे में दोनों के मरीजों को मिलकर कई लोग सड़क पर खड़े रहते हैं। उनके बीच न तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो पता है और न ही कोरोना से बचाव के लिए उपाय किये जाते हैं।

एसडीएम ने किया मुआयना
गुरुवार को जब सोशल मीडिया पर उनकी क्लिनिक पर भीड़ का वीडियो वायरल हुआ। प्रशासन तक शिकायत पहुंची, तो एसडीएम अंकिता जैन मौके पर पहुंचीं। उनके सामने भी लोगों की भीड़ लगी थी। उन्होंने तत्काल डॉक्टर से चर्चा कर भीड़ कम करने को कहा।

डॉक्टर को हिदायत दी गई है कि अगर इलाज करना है, तो कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करवाना होगा। नगरपालिका के अमले ने क्लिनिक पर 10 हजार का चालान काटा।