पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कार्यकारिणी पर विवाद:कांग्रेस के 3 पदाधिकारियों की भाजपा में आस्था

गुना6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • तीनों पदाधिकारी बोले- उनसे सहमति लिए बिना ही उनका नाम दे दिया
Advertisement
Advertisement

जिला कांग्रेस शहर व ग्रामीण की कार्यकारिणी शुक्रवार को घोषित कर दी गई। 24 घंटे से भी कम समय में इसे लेकर विवाद भी पैदा हो गया। कार्यकारिणी में शामिल 3 पदाधिकारियों व सदस्यों ने दावा किया है कि उनसे सहमति लिए बिना ही उनका नाम दे दिया गया।

इन तीनों पदाधिकारियों ने बाकायदा वीडियो भी जारी किए। जिन पदाधिकारियों ने आपत्ति जताई उनमें संगठन सचिव बनाए गए बाबूलाल रघुवंशी व विशेष आमंत्रित सदस्य कंवल सिंह रघुवंशी शामिल हैं। दोनों नेताओं ने शनिवार को पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया के निवास पर जाकर स्पष्टीकरण भी दिया। उन्होंने कहा कि उनका नाम बिना सहमति लिए कांग्रेस कार्यकारिणी में शामिल कर दिया गया। उनके अलावा सूची में शामिल पूर्व पार्षद अनिमुल्ला उर्फ अंजू ने भी खंडन किया है।

इनका कहना है कि वे आज भी सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया और प्रदेश के मंत्री श्री सिसौदिया के साथ हैं। भाजपा के सूत्रों ने बताया कि कम से कम तीन और पदाधिकारी ऐसे हैं जो यह दावा कर रहे हैं कि उनका नाम बिना सहमति के शामिल किया गया।

सभी से ली गई थी सहमति : कांग्रेस जिलाध्यक्ष (शहर) हरि शंकर विजयवर्गीय एवं प्रवक्ता शेखर वशिष्ठ ने इस मामले में कहा कि जो लोग आज अपनी आस्था बदल रहे हैं, वे एक माह पूर्व कांग्रेस के प्रति वफादारी जता रहे थे। उन्होंने कहा कि कार्यकारिणी गठन की प्रक्रिया एक माह से चल रही है। यहां से सूची को फाइनल करने के बाद प्रदेश स्तर पर मंजूरी के लिए भेज दिया गया था। तब तक इन लोगों को कोई आपत्ति नहीं थी। उनके पास आपत्ति जताने का भरपूर समय था।

हाशिए पर पड़े कई दिग्विजय समर्थक कार्यकारिणी में : नई कार्यकारिणी में अधिकांश नाम ऐसे हैं जो राजनीतिक गलियाराें में जाने माने हैं लेकिन अब तक उनकी सक्रियता नहीं दिखती थी। वे सीधे तौर पर दिग्विजय गुट के माने जाते थे। सिंधिया गुट के दबदबे के दौरान उनमें से अधिकांश ने अपनी राजनीतिक सक्रियता नहीं दिखाई।

लंबी-चौड़ी कार्यकारिणी

जिला कांग्रेस ग्रामीण की जंबो कार्यकारिणी में 123 नाम हैं। इनमें 15 उपाध्यक्ष, 36 महामंत्री, 1 प्रवक्ता, एक कोषाध्यक्ष, 29 संगठन सचिव, 5 कार्यकारिणी सदस्य और 36 विशेष आमंत्रित सदस्य शामिल हैं। वहीं शहरी कार्यकारिणी 90 सदस्यों की है। इसमें कोषाध्यक्ष के अलावा 2 प्रवक्ता, 13 उपाध्यक्ष, 26 महामंत्री, 24 संगठन सचिव, 5 कार्यकारिणी सदस्य और 20 विशेष आमंत्रित सदस्य शामिल हैं। दोनों कार्यकारिणी के अध्यक्ष करीब एक माह पूर्व मनोनीत हुए थे। कांग्रेस में अब गुटों के अंत के चलते ही दोनों कार्यकारिणी इतनी जल्दी गठित हो गईं। इससे पहले गुटों में संतुलन बिठाने के चक्कर में लंबे समय तक कांग्रेस की टीम घोषित ही नहीं हो पाती थी।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर कोई विवादित भूमि संबंधी परेशानी चल रही है, तो आज किसी की मध्यस्थता द्वारा हल मिलने की पूरी संभावना है। अपने व्यवहार को सकारात्मक व सहयोगात्मक बनाकर रखें। परिवार व समाज में आपकी मान प्रतिष...

और पढ़ें

Advertisement