पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Guna
  • 6 Crore 10 Lakh Scam Layers Of Kapil Dhara Scheme Opened ... There Was A Rule To Build 2 Wells In 1 Panchayat

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

2019 का मामला:कपिलधारा योजना के 6 करोड़ 10 लाख के घोटाले की परतें खुलीं... 1 पंचायत में 2 कुएं बनाने का था नियम

गुना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • तत्कालीन कलेक्टर ने लोकपाल को सौंपा था मामला, एक साल बाद भी नहीं भेजे गए दस्तावेज, लोकपाल से जिलापंचायत को भेजा नाेटिस

चांचौड़ा में मनरेगा की कपिलधारा योजना के तहत हुए 305 कुंओं का 6 करोड़ 10 लाख का कथित घोटाला साल भर दबे रहने के बाद एक बार फिर सामने आ गया है। दरअसल एक पंचायत में दो कुएं बनाने के आदेश थे पर जिले में 38 पंचायतों में बना दिए 305 बना दिए गए। मनरेगा लोकपाल ने जिला पंचायत को आदेश दिया है कि 18 जनवरी 2021 को इस मामले से जुड़े सभी दस्तावेज पेश किए जाएं। हैरानी की बात यह है कि खुद जिला पंचायत ने 2019 में 8 इंजीनियरों की टीम भेजकर मामले की जांच कराई थी। तत्कालीन कलेक्टर भास्कर लाक्षाकार ने जांच रिपाेर्ट के आधार पर मामले काे प्रथम दृष्टया सही मानते हुए मनरेगा लोकपाल को जांच के लिए लिखा था। यह पत्र दिसंबर 2019 को भेजा गया था। तब से अब तक इस मामले के दस्तावेज नहीं भेजे गए।

ऐसे दबा रहा मामला

15 माह पहले ही कलेक्टर ने कार्रवाई के लिए लिख दिया था : तत्कालीन कलेक्टर ने 19 सितंबर 2019 को चांचौड़ा जनपद सीईओ हरिनारायण शर्मा (जो अब भी पदस्थ हैं) को पत्र लिखकर जवाब तलब किया था कि जांच के बाद भी संबंधित रोजगार सहायकों, इंजीनियरों व सचिवों पर कार्रवाई क्यों नहीं की गई। इस मामले में सभी संबंधितों से वसूली के आदेश दिए गए थे। फंस रहे रोजगार सहायक सड़कों पर उतर आए और दावा करने लगे कि गड़बड़ी के लिए अकेले उन्हें बलि का बकरा बनाने की कोशिश की जा रही है।

फिर जांच पर जांच...और जनपद सीईओ ने जांच को खारिज कर दिया था : हैरानी की बात यह है जिस जांच को तत्कालीन कलेक्टर व जिला पंचायत सीईओ ने सही ठहराया, उसे जनपद सीईओ ने नकार दिया। उन्होंने वरिष्ठ कार्यालय व अधिकारियों को चुनौती देते हुए अपने स्तर पर अलग जांच करा दी और दावा किया कि 305 में से 303 कुंओ का वेरिफिकेशन कराया गया है।

ग्राउंड रिपोर्ट : मोहम्मदपुर : इस पंचायत में 8 कुएं, कई सालों पुराने

जनपद पंचायत के तहत माेहम्मदपुर गांव इस घाेटाले की बड़ी मिसाल है। यहां 8 कुंओं में अनियमितता पाई गई थी। यहां बने हुए कुएं पहली ही नजर में सालों पुराने दिखाई पड़ते हैं। यहां दीवानसिंह नामक किसान के यहां बना कुआं तो सिर्फ गड्‌ढा भर ही है। इसी तरह भूरेलाल मीना के खेत के पास बने कुएं को देखकर साफ लगता है कि वह भी कई साल पहले बना होगा। ​​​​​​​

18 जनवरी काे हाेगी सुनवाई: जिपं सीईओ नीलेश पारीख का कहना है कि मामले की सुनवाई लोकपाल में 18 जनवरी को होना है। इसकी जांच मेरे कार्यकाल के दौरान नहीं हुई है। फिर भी संबंधित अधिकारियों को पत्र जारी कर दिया है।​​​​​​​

18 जनवरी काे हाेगी सुनवाई: जिपं सीईओ नीलेश पारीख का कहना है कि मामले की सुनवाई लोकपाल में 18 जनवरी को होना है। इसकी जांच मेरे कार्यकाल के दौरान नहीं हुई है। फिर भी संबंधित अधिकारियों को पत्र जारी कर दिया है।

आवाज दबाई और जांच भी कमाल

खुलासा करने वाले रोजगार सहायक को किया बर्खास्त : इस घोटाले के खुलासे की शुरूआत भी संयोग से मोहम्मदपुर पंचायत से ही हुई। यहां पदस्थ रोजगार सहायक रामबाबू मीना ने जनपद सीईओ को पत्र लिखकर पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव के उस निर्देश का हवाला दिया कि हर पंचायत में पात्रता के मुताबिक 2 कूप ही बनाए जाएं। यह आदेश अप्रैल 2018 में ही जारी किया था। इसके बावजूद मोहम्मदपुर पंचायत में एक के बाद एक कई कुए मंजूर हुए। बार-बार घोटाला उजागर करने की सजा आखिरकार उन्हें मिली और मार्च 2020 में उन्हें बर्खास्त कर दिया गया। राेजगार सहायक का मामला कमिश्नर कोर्ट में लंबित है।

फरियादी के बयान तक नहीं लिए : उक्त रोजगार सहायक की बर्खास्तगी जिस जांच के आधार पर हुई उसमें सरपंच, सचिव तो दूर फरियादी तक के बयान नहीं लिए गए। यह जांच जिला पंचायत के लेखापाल अशोक गुप्ता (तब वे परियोजना अधिकारी मनरेगा थे) ने की थी। कुछ ही माह के भीतर यह जांच खारिज हो गई। इसके बाद फरियादी ने श्री गुप्ता के खिलाफ अभियोजन की स्वीकृति मांगी। यह फरियाद भी जून 2020 से लंबित पड़ी हुई है। इस पर कार्रवाई नहीं की गई।​​​​​​​


खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें