पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Guna
  • After This Video, Which Is Being Told As 4 Years Old, Now Came To The Fore, The Constable Fell, The SP Suspended And Set Up An Investigation.

4 साल पहले का गुनाह अब आया सामने:गुना में सिपाही का लड़कियों के साथ अश्लील डांस करते का VIDEO सामने आया, बदमाश भी साथ मे लगा रहा था ठुमके; SP ने सस्पेंड किया

गुना4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वायरल वीडियो में अर्धनग्न हालत में दिख रहा सिपाही। - Dainik Bhaskar
वायरल वीडियो में अर्धनग्न हालत में दिख रहा सिपाही।

गुना जिले में एक कांस्टेबल का दो युवतियाें के साथ अश्लील डांस करते हुए वीडियो सामने आया है। कांस्टेबल के साथ एक अपहरण कांड का मुख्य आरोपी भी ठुमके लगाते हुए दिख रहा है। यह वीडियो 4 वर्ष पुराना बताया जा रहा है। एसपी ने आरक्षक को सस्पेंड कर जांच बिठा दी है।

वर्तमान में सिटी कोतवाली का कांस्टेबल विनीत भरद्वाज 3 वर्ष पहले तक धरनावदा थाने में तैनात था। वायरल वीडियो उसी समय का बताया जा रहा है। वीडियो में कांस्टेबल अर्धनग्न अवस्था में डांस करते हुए दिख रहा है। साथ में दो युवतियां भी नजर रही हैं। वहीं गाडी के बोनट पर रखे शराब के ग्लास भी वायरल वीडियो में नजर आ रहे हैं।

वीडियो के वायरल होते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। इतने वर्षों बाद वायरल हुए वीडियो ने सबको अचंभित कर दिया। हैरानी की बात है की वीडियो में कांस्टेबल के साथ एक अपराधी भी नाचते हुए दिख रहा है। यह अपराधी रघु तोमर बताया जा रहा है। रघु जिले में हुए हाई प्रोफाइल आत्माराम पारदी अपहरण कांड का मुख्य आरोपी है।

वायरल वीडियो का मामला संज्ञान में आते ही एसपी ने मामले में जांच बिठा दी है। साथ ही प्रथम दृष्टया आरक्षक विनीत भरद्वाज को निलंबित कर दिया गया है। एसपी ने बताया की कोतवाली टीआई की रिपोर्ट पर यह कार्रवाई की गई है। आगे जांच की जाएगी। जांच में जो भी और बातें आएंगी वो फाइल कर दी जाएंगी।

ये था आत्माराम पारदी अपहरण कांड
पूर्व में 85 वर्षीय अप्पी बाई पत्नी हरीलाल ने 4 जनवरी 2017 को हाईकोर्ट में हैबियस कार्पस दायर की थी। इसमें उसने कहा था कि 9 जून 2015 को धरनावदा पुलिस थाने के एसआई रामवीर कुशवाह, आरक्षक योगेन्द्र सिसौदिया, रघुराज सिंह तोमर उर्फ रघु और बनिया ड्राइवर घर आकर उसके लड़के आत्माराम को अपने साथ ले गए थे। आज तक पुलिस उसे तलाश नहीं पाई है। पुलिस की इस कार्यशैली पर कई सवाल उठ खड़े हो गए। इसको लेकर जानकारों का कहना है कि पुलिस अपने ही विभाग के उन लोगों को बचाने का प्रयास कर रही है, जिन पर उसकी मां ने अपने पुत्र के अपहरण की आशंका जाहिर की है।

खबरें और भी हैं...