• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Guna
  • Changes before the lockdown ends: Retail vegetable vendor arrived in Shastri Park Mandi, shops started decorating in Chowpatty

मनमर्जी / लॉकडाउन खत्म होने से पहले ही बदलाव: शास्त्री पार्क मंडी में पहुंचे फुटकर सब्जी विक्रेता, चौपाटी में सजने लगी दुकानें

Changes before the lockdown ends: Retail vegetable vendor arrived in Shastri Park Mandi, shops started decorating in Chowpatty
X
Changes before the lockdown ends: Retail vegetable vendor arrived in Shastri Park Mandi, shops started decorating in Chowpatty

  • दोपहर बाद रिटेल मंडी के दुकानदार फिर सड़कों पर आ गए

दैनिक भास्कर

May 29, 2020, 05:00 AM IST

गुना. करीब 63 दिन से बंद शास्त्री पार्क की रिटेल मंडी में गुरुवार को अचानक सब्जी वालों ने दुकानें जमा ली। अब तक सब्जी वाले बोहरा मस्जिद रोड के दोनों ओर ठेले व दुकान लगा रहे थे। इसे लेकर लगातार परेशानियां भी सामने आ रही थी। 
इसके अलावा मंडी परिसर स्थित चौपाटी में भी गतिविधियां शुरू हो गईं। कुछ दुकानदारों ने यहां कारोबार शुरू कर दिया। दरअसल शहरभर चाट वालों के ठेले पहले से ही शुरू हो चुके हैं। उधर थोक सब्जी मंडी को लेकर भी बड़ा बदलाव हो गया। बीते दो माह से यह नानाखेड़ी स्थित गल्ला मंडी में चल रही थी। अब जब वहां आवक बढ़ने लगी तो मंडी प्रबंधन को समस्या आने लगी। गुरुवार को अचानक यहां से थोक मंडी को हटाने का फरमान दे दिया गया। अब यह दशहरा मैदान शिफ्ट कर दी गई है। 

1. रिटेल सब्जी वाले : इनके लिए निर्देश हैं कि वे कालोनियों-मोहल्लों में घूम-घूमकर सब्जी बेचे। किसी एक जगह 10 मिनट से ज्यादा रुकने पर रोक है। 
हो क्या रहा था : शास्त्री पार्क मंडी के दुकानदार तो बोहरा मस्जिद रोड के दोनों ओर खड़े होने लगे थे। उनकी वजह से इस सड़क के अलावा नयापुरा रोड पर भी जाम लगता रहता था। सुबह 8 से दोपहर 12 बजे तक यहां भारी समस्या हो रही थी। जिस सोशल डिस्टेंस के लिए मंडी को बंद कराया गया था, उसका नई व्यवस्था में और ज्यादा उल्लंघन होने लगा था। बुधवार को तो इसे लेकर पुलिस के पास शिकायत तक पहुंची। जब पुलिस दुकानदारों को हटाने आई वहां विवाद हो गया। गुरुवार को अचानक सभी सब्जी वाले मंडी परिसर में पहुंच गए।

2. थोक मंडी : लॉकडाउन से पहले यह कारोबार निचला बाजार रपटा पर होता था। वहां भीड़ खत्म करने के लिए इसे अस्थाई रूप से नानाखेड़ी गल्ला मंडी पहुंचा दिया गया। 
अब क्या समस्या : शुरुआत में तो यह व्यवस्था अच्छी तरह चली। पर बीते 20 दिन से स्थिति बिगड़ने लगी। कारण यह है कि मंडी में अनाज की आवक बहुत बढ़ गई। जो शेड अनाज व अन्य जिंस की डाक के लिए रहते थे, वहां थोक सब्जी वालों का कब्जा हो गया था। इससे मंडी में जगह की किल्लत होने लगी। नतीजा यह हुआ गुरुवार को अचानक ही थोक सब्जी मंडी के शेड पर ट्रॉली व अनाज के ट्रक खड़े कर दिए गए। बाद में तय हुआ कि सब्जी की आड़त अब दशहरा मैदान में लगेगी।

3. चौपाटी : लॉकडाउन के बाद से शास्त्री पार्क परिसर में चलने वाले चाट बाजार पर रोक है। दो दिन से यहां भी गतिविधियां बढ़ने लगी हैं। गुरुवार को तो यहां तीन-चार दुकानें भी चालू हो गईं।
इसलिए विरोधाभास : लॉकडाउन 4 की गाइड लाइन में चौपाटी व चाट दुकानों, ठेलों को लेकर अलग से कोई उल्लेख नहीं था। इसमें खान-पान की दुकानों को छूट दी गई थी। इन दुकानों पर भी टेक अवे यानि पार्सल की सुविधा काे ही इजाजत थी। पर इस दाैरान चाट के ठेले भी लगने लगे। अब उन्हें देखकर चौपाटी के दुकानदार भी अपना कारोबार शुरू कर रहे हैं। 

बोहरा मस्जिद रोड की समस्या हल नहीं हो पाई
शास्त्री पार्क परिसर में सुबह के समय जो सब्जी वाले पहुंचे, वे दोपहर बाद एक बार फिर बोहरा मस्जिद रोड के दोनों ओर जम गए। सुबह के समय भी फलों के तमाम ठेले लाइन लगाकर इस सड़क पर जमे हुए थे। जो सब्जी वाले पहले मंडी परिसर में जाने की मांग कर रहे थे, वे ही अब बार-बार सड़क पर भी दुकान लगाने पर तुले हैं। कारण यह है कि दोपहर 12 बजे के बाद मंडी में खरीदारी कम हो जाती है। ऐसे में सड़क किनारे ठेला लगाकर आने-जाने वालों को सब्जी बेचना एक बेहतर विकल्प दिखाई देने लगा है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना