पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मानसून आया:8 साल बाद 20 तारीख से पहले दस्तक

गुना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • राहत, मौसम विभाग ने आधिकारिक रूप से की घोषणा, दिन उमसभरी गर्मी के बाद शाम को जोरदार बारिश

13 तारीख से भोपाल-विदिशा में अटके मानसून ने बीते 24 घंटे में ही 150 किमी से ज्यादा दूरी तय करते हुए गुना में अपनी आमद दर्ज करा दी। शुक्रवार दोपहर को मौसम विभाग की ओर से बताया गया कि दक्षिण पश्चिमी मानसून गुजरात, मप्र, उप्र, राजस्थान के कई इलाकों में आगे बढ़ गया।

इसमें गुना व अशोकनगर भी शामिल है। 2011 से 2021 के बीच सिर्फ दो बार ही मानसून 20 जून से पहले आया है। इससे पहले 2013 में मानसून ने 15 तारीख को ही आमद दर्ज करा दी थी।

उस साल जून माह में 259 मिमी बारिश हुई थी, जो माह की औसत बारिश (95.8) से लगभग ढाई गुना ज्यादा थी। जिले में मानसून के आमद की तारीख 23 जून है। हालांकि शुक्रवार को इसकी आमद के संकेत शाम 5 बजे के बाद ही मिले।

दिन में तेज उमस-गर्मी रही और शाम को 5 बजे से घने बादल छाए। करीब आधे घंटे बाद गरज-चमक के साथ हल्की बारिश हुई। फिर 15 मिनट तक पानी रुका और सवा 6 बजे से तेज बौछारें आना शुरू हो गईं। आज भी बारिश होने की संभावना है।

1. हवा की दिशा : शुक्रवार को दोपहर 2 बजे तक हवा पश्चिमी थी। जबकि शाम 5 बजे यह दक्षिण-पश्चिमी हो गई। यानि करीब-करीब 180 डिग्री का घुमाव आ गया।

2. तापमान में गिरावट : सोलर रेडिएशन कम होने और हवा में ठंडक बढ़ने से तापमान तेजी से नीचे आता है। शुक्रवार को दोपहर 3 बजे पारा 36.4 डिग्री पर था। यह शाम को 5 बजे 31 डिग्री पर आ गया।

3. नमी : दक्षिण-पश्चिमी हवा नमी से भरी रहती हैं। यही वजह है कि शुकवार को जैसे ही इन हवाओं का प्रभाव बढ़ा तो शाम की नमी 56 फीसदी तक पहुंच गई।

जून में कुल बारिश (मिमी में)
जून में कुल बारिश (मिमी में)
खबरें और भी हैं...