• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Guna
  • Demand For FIR Against The Director And Cast Of The Film In Guna; Said The Film Questioning The Existence Of Lord Ram, Will Not Allow The Film To Run In Any Theater

विवादों में 'रावण लीला':फिल्म निर्देशक और कलाकारों पर FIR की मांग; बोले- भगवान राम के अस्तित्व पर सवाल उठा रही फिल्म, किसी थिएटर में नहीं चलने देंगे फिल्म

गुना4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोतवाली में आवेदन देते रघुवंशी समाज के लोग। - Dainik Bhaskar
कोतवाली में आवेदन देते रघुवंशी समाज के लोग।

गुना। निर्देशक हार्दिक गुज्जर की आने वाले फिल्म रावण लीला विवादों में घिर गई है। रघुवंशी समाज ने कोतवाली में आवेदन देकर फिल्म पर रोक लगाने और निर्देशक व कलाकारों पर FIR दर्ज करने की मांग की है। रघुवंशी समाज का आरोप है कि फिल्म में रावण का महिमा मंडन किया गया है और भगवान राम के अस्तित्व पर ही सवाल खड़ा किया गया है। फिल्म में रावण को महान बताने की कोशिश की गई है।

गुरुवार रात समाज के जिलाध्यक्ष सुरेश रघुवंशी के नेतृत्व में समाज के लोग कोतवाली में आवेदन देने पहुंचे। उन्होंने फिल्म रिलीज होने की दशा में किसी भी सिनेमा घर मे उसे न चलने देने की चेतावनी दी है। कोतवाली थाना प्रभारी को सौंपे गए आवेदन में कहा गया है कि यूटयूब पर एक फिल्म का ट्रेलर दिखाया जा रहा है जिसका नाम रावण लीला है। फिल्म निर्माताओं के द्वारा भगवान राम एवं माता सीता का उपहास करने का प्रयास किया गया है।

आवेदन में कहा गया है कि दशहरा के त्योहार के दिन यह फिल्म रिलीज़ करके इस फिल्म के निर्माताओं द्वारा यह संदेश देने का प्रयास किया जा रहा है कि प्रभु श्री राम से अधिक महान रावण था। फिल्म में यह बताने की कोशिश की गई है कि सनातन हिन्दू धर्म के अनुयायी भगवान राम का जयकारा लगाकर गलती कर रहे हैं, जबकि राम कि नहीं रावण की पूजा की जानी चाहिए। निर्माता के द्वारा जानबूझकर किया जा रहा यह कृत्य सहन करने योग्य नहीं हैं। इसलिए फिल्म निर्देशक, कलाकारों पर मामला दर्ज दिया जाए। साथ ही फिल्म के रिलीज पर भी रोक लगाई जाए।

जिलाध्यक्ष सुरेश रघुवंशी ने बताया कि लंबे समय से बॉलीवुड के लोग हिन्दू धर्म की आस्थाओं से खिलवाड़ करते आ रहे हैं। इस फिल्म में भी रावण का महिमामंडन किया जा रहा है। वहीं भगवान राम के अस्तित्व पर ही सवाल खड़ा किया गया है। यह कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। अब हिन्दू समाज जाग चुका है। सेंसर बोर्ड इस फिल्म पर रोक लगाए। अगर ये फिल्म रिलीज की जाती है तो रघुवंशी समाज किसी भी सिनेमाघर में इस फिल्म को नहीं लगने देगा।

खबरें और भी हैं...