पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बरखेड़ा हत्याकांड:जेठ ने दोनों आरोपियों को मृतका को घसीटकर टपरिया में ले जाते देखा, जब वापस आया तो वहां सिर्फ धड़ मिला

गुनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जामनेर पुलिस ने 1 आरोपी को जाने दिया, इस शक पर परिजनों ने लगाया जाम
  • यह शक क्यों हुआ इसकी पुख्ता वजह परिजनों को भी नहीं पता थी, थाना प्रभारी ने भी किया इंकार

बजरंगगढ़ थाना क्षेत्र के बरखेड़ा में शुक्रवार शाम को महिला की गर्दन काटकर हुई हत्या के मामले में पुलिस ने एक आरोपी देवेंद्र धाकड़ उर्फ गोलू को हिरासत में ले लिया है। इस मामले का दूसरा आरोपी और सरपंच पति राजकुमार धाकड़ फरार है और उसी को लेकर शनिवार को भारी हंगामा हुआ। मृतिक का परिजनों को कहीं से यह जानकारी मिली कि उक्त आरोपी का वाहन जामनेर पुलिस ने जब्त किया था लेकिन उसे गिरफ्तार नहीं किया। उनमें इतनी नाराजगी हो गई कि उन्होंने महिला शव डेढ़ घंटे तक हनुमान चौराहे पर रखा और जाम लगा दिया। हालांकि यह पता नहीं चल पाया कि परिजनों को जामनेर पुलिस पर शक क्यों हुआ? उन्हें यह सूचना कहां से मिली? उधर जामनेर थाना प्रभारी कृपाल सिंह परिहार ने कहा कि उन्होंने किसी भी वाहन को जब्त नहीं किया न ही इस घटनाक्रम से जुड़े किसी शख्स की कोई सूचना उन तक आई। इस हत्याकांड का एक आरोपी गिरफ्तार कर लिया गया है, दूसरा फरार है।

मृतक के चाचा ने एसपी से बात की तब हटा जाम
मृतक गुड्‌डी बाई पत्नी जगराम धाकड़ की हत्या के मामले डेढ़ घंटे तक जाम लगा। इसके बाद पुलिस की समझाइश पर मृतक के चाचा बृजेश धाकड़ ने एसपी राजेश कुमार सिंह से बात की। उन्होंने यही कहा कि जामनेर पुलिस ने आरोपी राजकुमार की गाड़ी पकड़ी थी लेकिन उसे जाने दिया। बाद में जब भास्कर ने बृजेश से बात की कि उन्हें कैसे पता चला कि जामनेर पुलिस ने आरोपी का वाहन पकड़ा था। इस पर उन्होंने कहा कि ऐसी चर्चाएं चल रही थीं। यह चर्चाएं कहां से चलीं और उनका आधार क्या था, इसे लेकर भी पुख्ता तौर पर कोई बात सामने नहीं आ पाई।

बजरंगगढ़ पुलिस से भी नाराज
परिजनों को बजरंगगढ़ पुलिस से भी नाराजगी थी। उनका कहना था कि शुक्रवार को पुलिस बहुत देर से हरकत में आई। कई ने यह तक आरोप लगाया कि बार-बार फोन करने के बाद भी पुलिस 4 घंटे बाद मौके पर पहुंची। जबकि थाने और घटनास्थल के बीच की दूरी 4 किमी है। परिजनों ने कहा कि पुलिस भी तब आई जब वे खुद थाने पहुंच गए थे।

नाराजगी : जाम के दौरान निकलने की कोशिश करने पर लोगों से झड़प
इस घटनाक्रम को लेकर लोग इतने नाराज थे कि जाम के दौरान वहां से गुजरने वालों के साथ उन्होंने जमकर धक्का मुक्की कर दी। एक बस ने वहां से निकल रही थी तो उसे ट्रैक्टर से टक्कर मरने की कोशिश की गई। मामले को नियंत्रित करने के लिए एएसपी टीएस बघेल और सीएसपी नेहा पच्चीसिया लोगों से जूझते और समझाते रहे। लोग उन्हें भी खूब खरी खोटी सुना रहे थे। एक पुलिसकर्मी ने ट्रैक्टर को हटवाने की कोशिश की तो उनके साथ भी बहसबाजी हुई। लोगों ने शव को बीच सड़क पर रख रखा था। उसे चारों ओर घेरे परिजन विलाप कर रहे थे। अंतत: पुलिस ने लिखकर दिया कि 24 घंटे के भीतर दूसरे आरोपी को भी पकड़ लिया जाएगा।
विवाद की जड़ : दोनों पक्षों में एक कुएं को लेकर कुछ दिन पहले हुआ था झगड़ा
सीएसपी ने बताया कि दोनों पक्षों के बीच कई वजहों से विवाद चल रहे थे। एक तो उनकी जमीन एक दूसरे से जुड़ी हुई थीं। दूसरे एक कुएं को लेकर दोनों पक्षों के बीच कुछ दिन पहले विवाद हो गया था। इस दौरान काफी झगड़ा भी हुआ।
कार्रवाई : पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी देवेंद्र धाकड़ उर्फ गोलू को म्याना से गिरफ्तार किया। उसका भाई और दूसरा आरोपी राजकुमार अभी फरार है। बताया जाता है कि उसकी पत्नी सरपंच है। उसी के पेट्रोल पंप के पीछे महिला का शव मिला था।

ये है एफआईआर
जेठ और उसकी पत्नी ने अपने सामने घटना होते देखी

इस मामले में पुलिस ने मृतका के जेठ चम्पालाल पिता अमर सिंह धाकड़ की शिकायत पर एफआईआर दर्ज की है। फरियादी और मृतका के खेत पास-पास ही हैं। रिपोर्ट के मुताबिक घटना शुक्रवार शाम साढ़े 5 बजे की है। फरियादी के मुताबिक उसने देखा कि दोनों आरोपी मृतका को खींचकर ट्यूबवेल के पास बनी टपरिया में ले जा रहे थे। फरियादी की पत्नी रामकन्याबाई ने भी इस घटनाक्रम को देखा, जो उस समय खेत से भुट्‌टे तोड़ रही थी। फरियादी के मुताबिक यह सब देखकर वह डर गया था। वह घर गया और अपने चाचा गजेंद्र, सिंह को घटना की जानकारी दी। बाद में परिवार के सदस्य वापस घटनास्थल आए तो वहां मृतका नहीं मिली। आसपास घूमकर देखा ताे उन्हें एक सिरकटी लाश मिली। करीब 20 फीट की दूरी पर सिर भी मिल गया, जिससे पुष्टि हो गई कि गुड्‌डी बाई की हत्या कर दी गई है।
दोनों आरोपियों पर हत्या के साथ दुष्कर्म की धारा लगाईं
इस मामले में पुलिस ने आरोपियों पर हत्या के अलावा ज्यादती की धाराएं भी लगाई हैं। हालांकि सीएसपी ने कहा कि ज्यादती की पुष्टि के लिए पीएम रिपोर्ट का इंतजार है। एफआईआर में प्रत्यक्षदर्शी की सूचना के आधार पर हमने धाराएं लिखी हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें