• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Guna
  • Locked In Office For Lagging Behind In Vaccination In Guna, 5 Schools Closed After Children Got Infected In Sagar

MP में बच्चों पर कोरोना का साया:गुना में वैक्सीनेशन में पिछड़ने पर ऑफिस सील, सागर में बच्चे संक्रमित मिलने पर 5 स्कूल बंद

मध्यप्रदेश10 दिन पहले

मध्यप्रदेश में कोरोना की थर्ड वेव बच्चों को भी चपेट में ले रही है। बच्चे भी कोरोना की चपेट में आ रहे हैं। इधर, टीनएजर्स​ का​​​ वैक्सीनेशन भी किया जा रहा है। वैक्सीनेशन में लापरवाही पर बुधवार को दो जिलों में स्कूलों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। गुना में प्रशासन ने स्कूल का रिकॉर्ड जब्त कर ऑफिस सील कर दिया है। वहीं, सागर में 5 स्कूलों के 19 बच्चों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें एक ही स्कूल के 11 बच्चे भी हैं। इसके बाद पांचों स्कूलों को बंद कर दिया गया।

भोपाल में बुधवार को पॉजिटिव आए 863 नए कोरोना मरीजों में 47 बच्चे हैं। इनमें आठ महीने की एक बच्ची भी है। यही नहीं, एक जनवरी से अब तक 18 साल तक के 240 से ज्यादा बच्चों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आ चुकी है। इतने पर भी सरकार ने स्कूलों के संबंध में कोई निर्णय नहीं लिया है। दो दिन पहले हुई कोरोना समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री ने स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार को वेट एंड वॉच के लिए कहा था। इस संबंध में शुक्रवार को मुख्यमंत्री ने समीक्षा बैठक बुलाई है।

गुना में वैक्सीनेशन में पिछले 6 स्कूलों पर एक्शन

टीनएजर्स के वैक्सीनेशन में पिछड़ने पर गुना जिले के 6 स्कूलों पर एक्शन लिया गया है। कुंभराज में टारगेट पूरा नहीं होने पर प्राइवेट स्कूल का ऑफिस सील कर दिया। वहीं एक अन्य स्कूल का रिकॉर्ड जब्त किया गया। इसके अलावा 4 प्राइवेट स्कूलों का इंस्पेक्शन कर SDM ने प्रोग्रेस रिपोर्ट लाने को कहा है। इनमें बाल विद्या विहार, क्राइस्ट स्कूल, प्रेसिडेंसी स्कूल और नवीन विद्या मंदिर शामिल हैं। टीनएजर्स के वैक्सीनेशन में पिछड़ने पर प्रदेश में यह पहली बड़ी कार्रवाई है।

गुना जिले में 51 हजार स्टूडेंट्स को वैक्सीनेशन के लिए चुना गया है। 47 हजार छात्र-छात्राओं को टीका लग चुका है। 4 हजार अभी भी वैक्सीन से छूटे हुए हैं। छूटे हुए ज्यादातर बच्चे प्राइवेट स्कूल के हैं। जिन स्कूल में 200 से ज्यादा स्टूडेंट्स छूटे हुए हैं, वहां SDM ने दौरा किया। स्कूल के पास बच्चों का रिकॉर्ड भी नहीं है। स्कूल मैनेजमेंट को यह जानकारी ही नहीं कि कौन छात्र वैक्सीन से छूटा हुआ है।

कुंभराज में प्राइवेट स्कूल के ऑफिस को सील करती टीम।
कुंभराज में प्राइवेट स्कूल के ऑफिस को सील करती टीम।

सागर में एक ही स्कूल के 11 बच्चे संक्रमित

जिले में 5 स्कूलों में 19 से ज्यादा स्कूली बच्चे पॉजिटिव मिले हैं। इसके बाद शिक्षा विभाग में हड़कंप मच गया। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने स्कूलों में जांच की है। स्कूलों को 3 दिन के लिए बंद किया गया है। स्कूल भवनों को सेनेटाइज कराया जा रहा है। सभी बच्चों की उम्र 5 से 17 साल तक है।

शाहगढ़ ब्लाॅक की प्राथमिक शाला राजोला में 11, हीरापुर संकुल के तिगोड़ा में दो बच्चे, केसली में 1, रजाखेड़ी में 3 और नरयावली में हायर सेकंडरी के 2 स्कूली बच्चों में कोरोना की पुष्टि हुई है। शाहगढ़ बीएमओ डॉ. अमित आनंद असाटी ने बताया कि राजोला में रैंडम सैंपलिंग कराई गई थी। सभी बच्चों को होम आइसोलेट किया गया है। किसी बच्चे को परेशानी नहीं है। टीमें लगातार निगरानी रख रही हैं। गांव के लोगों की जांच की गई है।

तिगोड़ा और केसली स्कूल में 3 दिन के लिए बंद

डीईओ के अनुसार स्कूल भवनों को सेनेटाइज कराया है। नरयावली, रजाखेड़ी में संक्रमित मिले बच्चे कई दिन से स्कूल नहीं आ रहे थे। पेरेंट्स से कहा गया है कि बच्चों की तबीयत खराब होने पर उन्हें अस्पताल न भेजें। डॉक्टर से इलाज कराएं। गाइडलाइन का पालन करें।

खबरें और भी हैं...