पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कार्रवाई:जिला पंचायत के मनरेगा में काम करने के आदेश लेकिन गिट्टी, भसुआ और सीमेंट की दुकानें ही बंद

गुना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सचिव बोले-पंचायत में मनरेगा के काम कैसे होंगे सामग्री नहीं मिल रही

कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर एक तरफ कोरोना कर्फ्यू के तहत सिर्फ जरूरी सामान के बेचने की ही छूट है। हाल ही में जिला पंचायत ने आदेश जारी किया है कि पंचायत में मनरेगा के तहत काम होते रहेंगे। ऐसी स्थिति में सचिवों के सामने संकट खड़ा हो गया है।

उनका कहना है कि काम कराने का दबाव आ रहा है, लेकिन गांवों में काम कैसे चालू कराएं, इसके लिए निर्माण सामग्री नहीं मिल रही है। इसके बाद मनरेगा के तहत काम चालू रखना मुश्किल है। बीनागंज में भी प्रशासनिक अधिकारियों ने गिट्‌टी, भसुआ और रेत का कारोबार करने वालों की दुकानें बंद कराई। यह कारोबारी बिना अनुमति के संस्थान को खोलकर बैठे थे।

जैसे ही तहसीलदार तहसीलदार विजय पाल सिंह चौहान को सूचना मिली तो वह टीम लेकर पहुंचे। फिर कस्बे में कार्रवाई की। होटल शिवानी के पास शासन की गाइडलाइन का पालन न करने पर सरिया, सीमेंट आदि का कारोबार करने वाले वीरेंद्र शिवहरे की दुकान को प्रशासन ने सील कर दिया। इससे पहले एक दुकान सील की थी।

सचिवों ने कहा-कैसे काम चालू रखें

इस सचिवों में भी कोरोना काल में मनरेगा के काम चालू रखने को लेकर विचित्र स्थिति बन रही है। गुना जनपद पंचायत के सचिवों का कहना है कि सामग्री ही नहीं मिल रही है, फिर ऐसी स्थिति में वह काम कैसे कराएं। इधर प्रशासन का दबाव आ रहा है कि काम चालू रखें। लेकिन सामग्री के अभाव में काम शुरु नहीं हो पा रहे हैं।

खबरें और भी हैं...