• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Guna
  • Scindia Said – Racks Are Being Sent On The Racks; Guna MP KP Yadav Raised The Issue Of Shortage Of Fertilizer In Lok Sabha

खाद पर सिंधिया और केपी के अलग-अलग सुर:केंद्रीय राज्यमंत्री बोले- खाद की रैक पर रैक भिजवा रहा हूं; गुना सांसद ने लोकसभा में उठाया कमी का मुद्दा

गुना2 महीने पहले
गुना में खाद के लिए लाइन में लगे किसान।

ग्वालियर-चंबल संभाग में खाद की किल्लत को लेकर अलग-अलग तरह के दावे किए जा रहे हैं। केंद्रीय राज्यमंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि खाद की रैक पर रैक भिजवाई जा रही हैं। दूसरी ओर गुना सांसद केपी यादव ने सोमवार को लोकसभा में खाद की किल्लत का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि उनके संसदीय क्षेत्र सहित समूचे मध्यप्रदेश में खाद की किल्लत है।

बता दें कि इस बार पोस्ट मानसून बारिश भरपूर हो जाने से किसानों को DAP की आवश्यकता 15 दिन पहले ही पड़ गई थी। अब यूरिया की मांग तेजी से बढ़ी है। पहले बोवनी होने से फसल जल्दी ग्रोथ करने लगी है।

अब उसे यूरिया की जरूरत है। इस बार चने का रकबा कम हुआ है, जबकि गेहूं और सरसों का रकबा बढ़ा है। यही वजह है कि अब यूरिया की ज्यादा मांग है, लेकिन वितरण केंद्रों पर एक किसान को मात्र 2 बोरी यूरिया दिया जा रहा है। किसान यूरिया की कालाबाजारी और ज्यादा दामों में बेचने का आरोप भी लगा रहे हैं।

यह कहा था सिंधिया ने
शनिवार को गुना दौरे पर आए केंद्रीय मंत्री सिंधिया ने कहा था कि आपने खाद की बात की, पहले DAP की किल्लत थी समूचे ग्वालियर-चंबल संभाग में। खाद मंत्री से बात करके, एक-एक जिले में खाद (DAP) पहुंचाने का काम हमने साथ मिलकर किया। ये केवल संभव है, क्योंकि डबल इंजन की सरकार भारतीय जनता पार्टी की है। आप चिंता मत करना, जो यूरिया की कमी थी, एक के ऊपर एक रैक भिजवा रहा हूं यूरिया की ग्वालियर, गुना और अशोकनगर। कोई खाद की कमी नहीं आने दूंगा, ये विश्वास मैं आपको दिलवाता हूं।

संसद में केपी यादव में उठाया मुद्दा
दूसरी ओर क्षेत्रीय सांसद केपी यादव ने सोमवार को लोकसभा में खाद की समस्या का मामला उठाया। उन्होंने संसद में कहा कि जबकि भारत सरकार के पास उर्वरक की कोई कमी नहीं है। इस वर्ष समय पर पर्याप्त वर्षा हो जाने के कारण और रबी फसल का क्षेत्रफल बढ़ जाने के कारण लोकसभा क्षेत्र में एक ही समय मे खाद की मांग बढ़ गई है। इससे किसानों को असुविधा का सामना करना पड़ रहा है।

खाद वितरण की समस्या लोकसभा क्षेत्र के साथ-साथ समूचे मध्यप्रदेश में भी बनी हुई है। पहले DAP की कमी हुई थी और अब यूरिया की मांग ज्यादा है। उन्होंने उर्वरक मंत्री से यूरिया उपलब्ध कराने की मांग की।

बता दें कि पिछले लोकसभा चुनाव में केपी यादव ने ज्योतिरादित्य सिंधिया हरा चुके हैं। उस समय सिंधिया कांग्रेस में थे। सांसद केपी यादव अपने मुद्दे उठाने में पीछे नहीं हैं। जबकि, सिंधिया ने कहा- उन्होंने गुना भी खाद पहुंचाई है।