पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Guna
  • Seeing On The Screen, Instructions Are Given To The Citizens Through The Mic, Arrangements Are Started By Connecting The Cameras And The Mic In The Police Control Room.

जानिये कैसे काम करता है सीसीटीवी कंट्रोल रूम:स्क्रीन पर देखकर माइक के जरिये नागरिकों को दिए जाते हैं निर्देश, पुलिस कंट्रोल रूम में कैमरों और माइक को जोड़कर शुरू की व्यवस्था

गुना17 दिन पहले
इस तरह स्क्रीन पर देखकर दिए जाते हैं निर्देश

गुना। अनुराधा गली में भीड़ क्यों लगा रखी चलिए जाइये वहां से। सुगन चौराहे पर हरी शर्ट में जो खड़े हैं , उन्होंने मास्क क्यों नहीं लगा रखा। जल्दी लगाइये। हाट रोड पर इस नंबर की गाडी गलत पार्क की हुई है , उसे हटाइये वहां से। इस तरह के निर्देश आजकल लोगों को चौराहों पर लगे माइक में सुनने को मिलते हैं। शुरू शुरू में लोग अचंभित हुए की ये कौन कहाँ से हमें देखकर बोल रहा है।

दरअसल शहर भर में सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं। एसपी राजीव कुमार मिश्रा की पहल पर हर चौराहे पर माइक लगा दिए गए हैं और इन सबको सीधे सीसीटीवी कण्ट्रोल रूम से जोड़ दिया है। इस कण्ट्रोल रूम से ही सभी गतिविधियों की मॉनिटरिंग हो रही है। भास्कर ने इस कण्ट्रोल रूम में पहुंचकर पूरी प्रक्रिया समझने की कोशिश की।

शहर में 300 से ज्यादा कैमरे लगे हुए हैं। इनमे 150 कैमरे सरकारी हैं। वहीं 150 से ज्यादा निजी लोगों ने अपने घरों और दुकानों पर कैमरे लगवा रखे हैं। उन्होंने इनकी लिंक पुलिस को दे दी है जिससे ये सीधे सीसीटीवी कण्ट्रोल रूम से जुड़ गए हैं। कण्ट्रोल रूम में व्यवस्थाएं देख रहीं दीपा उपाध्याय ने बताया की कैमरे और माइक कण्ट्रोल रूम से सीधे जुड़े हुए हैं। यहाँ पर 4 लोगों की ड्यूटी है जो सभी कैमरों पर नजर रखते हैं। शहर में कहाँ क्या गतिविधि हो रही है, उन सब पर नजर रखी जाती है।

चौराहों पर लगे साउंड के जरिये आमजन तक पहुँचते हैं निर्देश
चौराहों पर लगे साउंड के जरिये आमजन तक पहुँचते हैं निर्देश

किसने मास्क नहीं लगा रखा , कहाँ भीड़ हो रही है, कहाँ गाडी गलत खड़ी की है, ये सब यहाँ से मॉनिटर किया जाता है। जो भी गड़बड़ दिखती है तो तत्काल माइक से उसे सुधारने का बोला जाता है। कण्ट्रोल रूम में एक बड़ी स्क्रीन लगायी गयी है। वहीं डेस्क पर एक एक कंप्यूटर भी रखा गया है। इन सभी से शहर की मॉनिटरिंग की जाती है।

अभी जिले में अनलॉक हो गया है। यह भी आदेश हैं की किस दिन कौनसी दुकानें खुलेंगी। सीधे कण्ट्रोल रूम से ही माइक के माध्यम से ये सूचना भी दी जाती है की किस दिन कौनसी दुकानें खुलेंगी। क्या समय रहेगा। साथ ही कोरोना गाइड लाइन का पालन करने का अनुरोध भी लगातार किया जाता है। रविवार को कोरोना कर्फ्यू रहेगा तो यहीं से उसका भी अनाउंसमेंट भी किया जा रहा है।

एसपी राजीव कुमार मिश्रा ने बताया की कैमरों के साथ साउंड सिस्टम को जोड़ा गया है। कण्ट्रोल रूम के इंचार्ज स्क्रीन पर शहर की गतिविधियों को देख लेते हैं। और वहीं से बैठे बैठे ही अनाउंस करके वहां अलर्ट कर देते हैं की ये व्यक्ति मास्क नहीं लगाया हैं या यहाँ 6 से ज्यादा आदमी एक साथ खड़े हैं। इससे तुरंत लाइव आवाज वहां चली जाती है। इससे काफी कुछ कण्ट्रोल हो जाता है। साथ ही जो मेसेज शहर के चौराहों पर देना है तो वो यहीं से सीधे दे सकते हैं। कोरोना की गाइड लाइन भी बता देते हैं।

खबरें और भी हैं...