पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Guna
  • Solidarity Can Change, The Condition Of Tribals In The Country, Understand The Importance Of Votes: Rajagopal PV

5 लाख सहरिया एकजुट:एकजुटता बदल सकती है, देश में आदिवासियों की हालत, वोट का महत्व समझें : राजगोपाल पीवी

गुना11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

ग्वालियर चंबल अंचल के सहरिया आदिवासी आज भी जीवन जीने की मूलभूत अधिकारों से वंचित हैं। अगर पूरे अंचल के 5 लाख सहरिया एकजुट हो जाए तो सारे देश मे रहने वाले आदिवासियों, किसानों एव भूमिहीनों की सभी समस्याओं को दूर कर इस देश की तस्वीर बदल सकते हैं। यह बात मंगलवार को जिले की बमोरी तहसील के गांव नौनेरा में आयोजित सहरिया समाज के मुखिया सम्मेलन में एकता परिषद के संस्थापक एव गांधीवादी राजगोपाल पीव्ही (राजाजी) ने कही। उन्होंने कहा कि देश में आदिवासियों की स्थिति पहले से ही बहुत ख़राब थी अब कोरोना बीमारी से उत्पन्न हुई परिस्थितियों से और अधिक खराब हो गई है। पलायन से लौटे मजदूरों की स्थिति सबको पता है सरकार द्वारा बांटे जा रहे राशन वितरण में हो रही अनियमितता किसी से छुपी नहीं है गांव-गांव में गरीब परिवार राशन पर्ची के लिए लाइन में खड़े हैं। गरीबों के हक का राशन उन तक पहुंच नहीं रहा। गांव-गांव में आदिवासी वन भूमि पर वर्षों से खेती कर अपना जीवन यापन कर रहे हैं। वन अधिकार कानून आने के बाद भी उनको उस जमीन का पट्टा नहीं मिल पा रहा है। वन विभाग वाले रोजाना आदिवासियों को जमीन से बेदखल करने के नाम पर प्रताड़ित करने में लगे है, आखिर इन समस्याओं का हल क्या है? इनका हल है गांव-गांव में मजबूत संगठन अगर आपका संगठन मजबूत होगा तो कोई भी आपको परेशान करने से पहले दस बार सोचेगा। इसलिए सबको संगठित होने की जरूरत है अपनी मांगों को लेकर उठ खड़े होने की जरूरत है। हमारी मांग है जमीन का पट्टा दो ताकि हम अपनी मेहनत से टिकाऊ आजीविका कमा सकें। हमें न राशन पर्ची चाहिए न पेंशन चाहिए हमें चाहिए हमारा हक हमारी जमीन चाहिए। इसलिए अब से कोई भी राजनीतिक प्रतिनिधि या उम्मीदवार आपके पास आता है तो उनसे बस यही कहना है “नहीं जमीन तो नहीं वोट”। श्रमदान कार्यक्रम की जानकारी दी: इससे पूर्व मुखिया सम्मेलन को एकता परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष रणसिंह परमार ने संबोधित करते हुए कहा कि गरीबों का कोई साथ देने वाला नहीं है केवल आपकी एकता ही काम आएगी। नोनेरा गांव में संगठन की मदद से किए गए श्रमदान एव वृक्षारोपण कार्यक्रम के बारे में अवगत कराया। नोनेरा गांव के आदिवासियों ने श्रमदान से टूटे हुए बांध का निर्माण कर एक मिसाल कायम की है साथ ही 1000 वृक्षों का वृक्षारोपण कर सामुदायिक भवन की आधारशिला रखी है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन पारिवारिक व आर्थिक दोनों दृष्टि से शुभ फलदाई है। व्यक्तिगत कार्यों में सफलता मिलने से मानसिक शांति अनुभव करेंगे। कठिन से कठिन कार्य को आप अपने दृढ़ विश्वास से पूरा करने की क्षमता रखे...

और पढ़ें