पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसानों का काफिला:दिल्ली जा रहे किसानों का जत्था रोका, विरोध के बाद जाने दिया

गुना2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एडीएम, एएसपी ने भी पुराने आरटीओ में ठहरे किसानों को मनाने की कोशिश की

एडीएम, एएसपी ने भी पुराने आरटीओ में ठहरे किसानों को मनाने की कोशिश की मंगलवार को महाराष्ट्र से दिल्ली जा रहे 300 से ज्यादा किसानों के काफिले को पुलिस ने रोकने की कोशिश की। गुना से राजस्थान की ओर जा रहे इस जत्थे के वाहनों को बेरखेड़ी के घने जंगलों में रोक लिया गया।

जत्थे के साथ गए गुना के सामाजिक कार्यकर्ताओं के मुताबिक करीब 70-80 पुलिसकर्मी वहां पहुंच गए थे। इससे पहले गुना पहुंचने पर जत्थे का हनुमान चौराहे पर स्वागत किया गया। यहां पर एक सभा भी हुई। इसके बाद पुराने आरटीओ परिसर में किसानों को भोजन कराया गया। वहां पर एडीएम विवेक रघुवंशी और एसपी टीएस बघेल पहुंचे। उन्होंने किसानों को कहा कि वे दिल्ली न जाएं। किसानों उनकी इस सलाह को खारिज कर दिया।

हर व्यक्ति की एंट्री करना चाहती थी पुलिस : गुना से रवाना हुए जत्थे के साथ शामिल सीपीआई के मनोहर मिराेठा ने बताया कि हमें राजस्थान की सीमा से पहले बेरखेड़ी के घने जंगल में रोका गया। वहां पर पुलिस कहने लगी कि जत्थे में शामिल हर व्यक्ति के नाम-पते व अन्य जानकारी दर्ज की जाएगी। विरोध के बाद हमें आगे जाने दिया।

आरएसएस को लेकर दिए बयान पर जत्थे के लोगों ने दी सफाई
इस जत्थे के नेतृत्व महाराष्ट्र किसान सभा के नामदेव गावले, राजेंद्र क्षीरसागर व प्रह्लाद बैरागी कर रहे थे। गुना में उन्होंने पत्रकारों से बात भी की। इस दौरान उन्होंने गत दिवस आरएसएस को लेकर किसान समन्वय समिति की ओर से आए बयान पर सफाई दी। दरअसल बैतूल में समिति की ओर आरएसएस को लेकर आपत्तिजनक बयान आया था। किसान नेताओं ने कहा कि हमारा यही कहना है कि आरएसएस जैसे संगठनों ने किसानों के मुद्दों पर खामोशी बना रखी है। इसलिए जल्द ही जनता इन्हें नकार देगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी विशिष्ट कार्य को पूरा करने में आपकी मेहनत आज कामयाब होगी। समय में सकारात्मक परिवर्तन आ रहा है। घर और समाज में भी आपके योगदान व काम की सराहना होगी। नेगेटिव- किसी नजदीकी संबंधी की वजह स...

    और पढ़ें