पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Guna
  • The Minister Was Going To The Area To Express Condolences, A Scuffle Broke Out Between Two BJP Leaders To Sit In The Car; Tore The Clothes Of District Minister Mahendra Kirar

मंत्री के सामने भिड़े दो भाजपा नेता:क्षेत्र में संवेदना व्यक्त करने जा रहे थे महेंद्र सिंह सिसोदिया, गाड़ी में बैठने को लेकर दो भाजपा नेताओं में विवाद; जिला मंत्री के कपड़े फाड़े

गुनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मंत्री की गाड़ी के पास जमा हुजूम। - Dainik Bhaskar
मंत्री की गाड़ी के पास जमा हुजूम।

विधानसभा क्षेत्र बमोरी में शोक संवेदना व्यक्त करने जा रहे पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया के सामने ही दो भाजपा नेता आपस में भिड़ गए। मंत्री के साथ गाड़ी में बैठने को लेकर शुरू हुई कहासुनी हाथापाई तक जा पहुंची। इसमें भाजपा नेता के कपड़े फट गए। उन्होंने कैंट थाने में मामले की शिकायत की है।

शुक्रवार को पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार पंचायत मंत्री बमोरी क्षेत्र के दौरे पर निकले थे। उन्हें क्षेत्र में कई जगह शोक संवेदनाएं व्यक्त करने जाना था। उनके साथ भाजपा नेता भी मौजूद थे। वाकया दोपहर करीब 1 बजे हुआ। कुसुमौदा चौकी से 50 मीटर पहले मामला हुआ। यहां मंत्री के साथ गाड़ी में बैठने को लेकर दो भाजपा नेता आपस में भिड़ गए। इसके बाद हाथापाई शुरू हो गई।

भाजपा के जिला पदाधिकारी महेंद्र किरार ने बताया कि वे मंत्री की साथ बमोरी क्षेत्र के दौरे पर जा रहे थे। इसी बीच, मंत्री कुसुमौदा चौकी के पास एक शोरूम पर रुके। यहां भाजपा नेता हेमराज किरार, दुष्यंत किरार ने 5-6 लोगों के साथ मिलकर महेंद्र किरार पर हमला कर दिया। झड़प में महेंद्र किरार के कपड़े फाड़ दिए। महेंद्र किरार ने कैंट थाने पहुंचकर शिकायत की।

फटे कपड़ों में कैंट थाने पहुंचे महेंद्र किरार।
फटे कपड़ों में कैंट थाने पहुंचे महेंद्र किरार।

आपस में विरोधी हैं दोनों नेता
महेंद्र किरार और हेमराज किरार दोनों बमोरी क्षेत्र के सामरसिंगा गांव के रहने वाले हैं। दोनों ही भाजपा के पदाधिकारी हैं। बावजूद दोनों में लंबे समय से आपसी खींचतान चल रही है। कई बार दोनों के बीच मुंहवाद भी हो चुका है। समय-समय पर दोनों की एक-दूसरे के प्रति तल्खियां सामने भी आती रही हैं। चुनावों के दौरान भी कई बार मनमुटाव सामने आया है।

मंत्री के हस्तक्षेप के बाद मामला शांत हुआ
पूरा वाकया उस समय हुआ, जब पंचायत मंत्री खुद वहां मौजूद थे। दोनों नेता उनके सामने ही एक-दूसरे से भिड़ गए। मंत्री के हस्तक्षेप पर भी दोनों नहीं माने। 5 मिनट तक हाई वोल्टेज ड्रामा चलता रहा। बमुश्किल मंत्री ने बीच बचाव कर दोनों को समझाया। इसके बाद मामला शांत हो पाया। बताया जा रहा है की मंत्री के साथ उनकी गाड़ी में बैठने को लेकर विवाद हुआ है।

खबरें और भी हैं...