• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Guna
  • The Salesmen Did The Game By Getting The Fingerprints Of The Poor Installed; Wheat, Rice Including Sugar Were Sold In The Market, FIR Registered

गुना में गरीबों के राशन पर डांका:सेल्समैन ने गरीबों के फिंगरप्रिंट लगवाकर किया खेल; गेहूं, चावल सहित शक्कर तक बाजार में बेच दी, FIR

गुना8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो।

जिले में गरीबों के राशन पर किस हद तक डांका डाला जा रहा है, इसका उदाहरण राशन दुकान पर की गई जांच में सामने आया। म्याना इलाके में एक सरकारी राशन की दुकान चलाने वाले ने गरीबों के 500 क्विंटल गेंहू पर डांका डाल दिया। उसने नागरिकों के फिंगर प्रिंट लगवा कर राशन उनको नहीं दिया। उसे बाजार में बेंच दिया। जांच के बाद सेल्समेन के खिलाफ FIR दर्ज कराई गई है।

म्याना की PDS शॉप पर कन्हैया लाल विक्रेता हैं। गरीबों को राशन न देने की शिकायतें लगातार मिल रहीं थी। कलेक्टर तक भी इसकी शिकायत पहुंची। इसके बाद कलेक्टर फ्रैंक नोबल ने पूरे मामले की जांच कराई। जब दुकान की जांच की गई और स्टॉक मिलाया गया तो खाद्य विभाग के अधिकारियों के होश उड़ गए। सैकड़ों क्विंटल राशन में हेरा-फेरी सेल्समेन द्वारा की गई थी।

विभाग ने जब जांच की तो 518 क्विंटल गेंहू सेल्समेन द्वारा बाजार में बेंचने की बात सामने आई। इसी तरह 248 क्विंटल चावल भी स्टॉक में कम मिला। वह हितग्राहियों को नहीं बांटा गया था। उसे भी बाजार में बेंच दिया गया। विक्रेता ने 6 महीने से केरोसिन भी नहीं लिया था। प्रशासन की जांच के बाद विक्रेता कन्हैयालाल के खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। उससे वूसली की कार्यवाई भी की जाएगी।

ऐसे की हेराफेरी

प्रशासन की जांच में यह सामने आया कि सेल्समेन कन्हैयालाल विक्रेता द्वारा राशन में उपभोक्‍ताओं को नहीं दिया जाता था। वह अपने फिंगर प्रिंट से हितग्राही का राशन निकाल लेक्ट था। हितग्राही से उसकी फिंगर लगवाकर कम राशन उसे दे देता था। उसके नाम से ज्यादा राशन निकालने की एंट्री कर लेता था। इसी तरह उसने सैकड़ों क्विंटल राशन का गबन किया। उसने गरीबों को मिलने वाली शक्कर तक पर डांका डाला।

खबरें और भी हैं...