पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दीक्षा दिवस का आयोजन:गोवंश को हरा चारा खिलाकर मनाया विद्यासागर महाराज का दीक्षा दिवस

गुना17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
विद्यासागर महाराज के 54वें दीक्षा दिवस पर आरती करते हुए श्रद्धालु। - Dainik Bhaskar
विद्यासागर महाराज के 54वें दीक्षा दिवस पर आरती करते हुए श्रद्धालु।
  • अंचल में भक्तिभाव से मना आचार्यश्री विद्यासागरजी महाराज का दीक्षा दिवस

आचार्य विद्यासागर महाराज का 54वां दीक्षा दिवस गुना सहित जिले भर में भक्तिभाव से मनाया गया। इस मौके पर शहर के सभी जैन मंदिरों में कोविड-19 नियमों का पालन करते हुए आचार्यश्री की पूजन एवं महाआरती हुई। वहीं आचार्यश्री के जीवन पर आधारित अनेक प्रतियोगिताओं का ऑनलाइन आयोजन किया गया। आयोजित कार्यक्रमों में सामाजिक संस्थाओं ने बढ़-चढ़कर भाग लिया। इस दौरान बुधवार सुबह से ही सामाजिक संस्थाओं ने पौधरोपण सहित कई अन्य सेवा कार्य किए। इस अवसर पर शहर के सभी जैन मंदिरों में श्रीजी का अभिषेक एवं शांति धारा संपन्न हुई। वहीं शाम को आचार्यश्री दीक्षा दिवस के उपलक्ष्य में दिगंबर जैन सोशल ग्रुप वर्धमान द्वारा बूढ़े बालाजी स्थित दयोदय गोशाला में गोवंश को हरा चारा खिलाया गया। राघौगढ़ में मुनिसंघ के सानिध्य में मनाया दीक्षा दिवस : राघौगढ़ में विराजमान मुनिश्री प्रसाद सागर, उत्तम सागरजी, शैल सागरजी एवं पुराण सागर महाराज के सानिध्य में आचार्यश्री विद्यासागर महाराज का 54वां मुनि दीक्षा दिवस मनाया गया। इस मौके पर पार्श्वनाथ दिगंबर जैन मंदिर पर मुनिश्री प्रसाद सागर महाराज ने बताया कि आज से ठीक 54 वर्ष पहले विद्यासागर ने मुनि दीक्षा ली थी। आचार्य श्री का जन्म 10 अक्टूबर 1946 को कर्नाटक के बेलगांव जिले के सदलगा गांव में हुआ था। उनका बचपन का नाम विद्याधर था। 21 वर्ष की आयु में 1967 में विद्याधर ने आचार्य देशभूषण महाराज से ब्रह्मचारी व्रत धारण किया और उसी समय से घर, परिवार सब कुछ छोड़कर संयम के पथ पर चल पड़े। आचार्य विद्यासागर जी महाराज 54 वर्षों से लगातार कठोर तप, त्याग एवं साधना में लीन हैं। वर्तमान में आचार्यश्री का नेमावर से जबलपुर के लिए विहार चल रहा है। 75 वर्ष की आयु में भी आचार्य श्री 15 से 20 किलोमीटर प्रतिदिन पैदल विहार कर रहे हैं। इसके साथ ही कुंभराज में भी मुनिश्री पदम सागर एवं विस्वाक्ष सागर महाराज के सानिध्य में आचार्यश्री का दीक्षा दिवस मनाया गया।

खबरें और भी हैं...