• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Aron
  • When The Auto Driver Came To Give The Memorandum, The Deputy Collector Said Do Not Crowd, Answer Speak To The Leaders Too

लगातार लग रहा जुर्माना, चेतावनी- राहत नहीं मिली तो अनशन:ऑटो चालक ज्ञापन देने पहुंचे तो डिप्टी कलेक्टर ने कहा- भीड़ न लगाएं , जवाब -नेताओं से भी बोलो

गुनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आटो चालक यूनियन एटक ने डिप्टी कलेक्टर को ज्ञापन दिया। - Dainik Bhaskar
आटो चालक यूनियन एटक ने डिप्टी कलेक्टर को ज्ञापन दिया।

ऑटो चालकों की दस्तावेजों की जांच और उन पर होने वाले भारी-भरकम जुर्माने को लेकर संगठन में नाराजगी छा गई। इसका विरोध शुरू हो गया है। सोमवार को डिप्टी कलेक्टर को ज्ञापन देने के लिए ऑटो यूनियन के सदस्य भीड़ लेकर पहुंच गए। यह देख डिप्टी कलेक्टर ने कहा कि भीड़ नियंत्रित रखें क्योंकि कोरोना खत्म नहीं हुआ है। यह सुन सदस्यों ने कि इस सिद्धांत का पालन नेताओं की रैली और भीड़ पर भी होना चाहिए? यह सुन डिप्टी कलेक्टर ने भी चुप हो गए और ज्ञापन ले लिया। दरअसल परिवहन विभाग और यातायात पुलिस हाईकोर्ट के आदेश का हवाला देकर ऑटो में दस्तावेज देखे जा रहे हैं। इसे लेकर ऑटो चालकों का कहना है कि इससे परेशानी आ रही है।

आर्थिक तंगहाली
ऑटो चालकों का कहना था कि देश में लॉकडाउन लगा रहा, जिससे काम-धंधे चौपट हुए। परिवार का भरण-पोषण मुश्किल हो रहा है। वहीं उन पर छोटी से गलती पर भी 3 से 12 हजार रुपए तक का जुर्माना ठोका दिया जाता है। दस्तावेज के नाम पर उन्हें परेशान किया जा रहा है।

मांग- कैंप लगाया जाए
ऑटो यूनियन ने बैठक बुलाई। जिसमें राकेश मिश्रा, सीटू के राज्य उपाध्यक्ष डॉ. विष्णु शर्मा, ऑटो यूनियन के महासचिव कल्याण सिंह लोधी मौजूद रहे। उन्होंने मांग उठाई कि दस्तावेज पूर्ण कराने को लेकर प्रशासन एक कैंप का आयोजन कराएं। ताकि दलाली से बच सके।

खबरें और भी हैं...