पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राशन में गड़बड़ी:सिर्फ एक माह का राशन दिया और दो माह का निकाल लिया

कुंभराज21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

गरीबों को लॉकडाउन में मुख्यमंत्री ने 3 माह का राशन देने की घोषणा की है। इसके बाद से ही कई कंट्रोल संचालक इस राशन में गड़बड़ी करने से बाज नहीं आ रहे हैं। हालांकि चांचौड़ा क्षेत्र में शिकायतों की जांच भी होती है, लेकिन बाद में दबाव बनाकर मामले को कंट्रोल संचालक की रफा-दफा करवा देते हैं। चांचौड़ा जनपद की ग्राम पंचायत सोनाहेड़ा के गांव जोगीपुरा में कई परिवार को राशन पूरा नहीं दिया गया है।

महिला गुलाब बाई भील का कहना है कि वह 7 अप्रैल को कंट्रोल गई थी, अंत्योदय राशन कार्ड पर सिर्फ 30 किलो सामग्री दी लेकिन पता चला है कि कंट्रोल संचालक ने 18 अप्रैल और 22 अप्रैल को उसे मिलने वाले मई और जून माह का भी राशन निकाल लिया है। इसी तरह गांव के अन्य महिला कमला बाई, कैलाशी बाई ने भी शिकायत की है।

गांव के लोगों का कहना है कि उन्हें सिर्फ एक माह का राशन मिला है। इस मामले में सेल्समैन अमृतलाल सेन का कहना है कि चावल न आने से वितरण रोक दिया था, मई माह का मैंने तो राशन बांट दिया। जबकि महिलाओं काे यह राशन नहीं मिला है।

खबरें और भी हैं...