मामूली कहासुनी के बाद देसी कट्टे से किया फायर:98 हजार रुपए के लिए भतीजे के सीने में चाचा ने दागी गोली, हालत गंभीर, आरोपी फरार

कुरावरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कुरावर के कांकरिया रोड पर बीती रात 98 हजार रुपए के लेनदेन को लेकर बंद पड़े ढाबे में चाचा ने रिश्ते के भतीजे के लिए सीने में गोली दाग दी। वारदात में गंभीर रूप से घायल हुए सुनील गुर्जर को भोपाल रेफर किया है, जहां उसका उपचार चल रहा है। इधर वारदात को अंजाम देने वाला चाचा नरेंद्र गुर्जर फरार है।

बीते पांच दिनों में यह दूसरा मामला है, जिसमें रुपए के लेनदेन काे लेकर किसी और ने नही बल्कि अपने ही लोगों ने प्रताड़ित व जानलेवा हमला किया। इससे पहले 10 दिसंबर बोड़ा थाने के घीयाखेड़ी निवासी हेमसिंह गुर्जर ने अपनी ही बुआ के बेटों से तंग आकर आत्महत्या की योजना बनाई थी, इसकी भनक परिजनों को लगने पर बोड़ा थाने में बुआ के आरोपी दोनों बेटे तेजसिंह व धीरप गुर्जर निवासी किशोरपुरा के खिलाफ सूदखोरी का मामला दर्ज किया गया था।

लेनदेन के विवाद का यह है पूरा मामला
कांकरिया रोड पर एक ढाबा है जाे बंद पड़ा है। इसमें सुनील गुर्जर ने कुछ कमरे भी बना रखे हैं। सोमवार रात करीब साढ़े 12 बजे सुनील के रिश्ते का चाचा नरेंद्र गुर्जर यहां पहुंचा। सुनील और नरेंद्र के बीच उधारी के रुपए काे लेकर कहासुनी हुई। इसी कहासुनी के बीच नरेंद्र गुर्जर ने देसी कट्‌टा निकालकर सुनील के सीने में गोली मार दी।

गोली चलने की आवाज सुनकर पड़ोस में किराए से रह रहे दंपती बाहर आए, तब तक आरोपी मौके से भाग निकला था। इसके बाद पड़ोसी गंभीर घायल सुनील गुर्जर को श्रीदेव अस्पताल लेकर गए, जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे भोपाल रेफर कर दिया। बताया जा रहा कि सुनील ने अपने दूर के चाचा नरेंद्र गुर्जर को 98 हजार रुपए सालभर पहले उधार दिए थे। जिन्हें नरेंद्र लौटा नहीं रहा था।

हम हर एंगल से जांच कर रहे हैं

  • पुलिस ने आरोपी के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया है, फिलहाल पीड़ित ज्यादा कुछ कहने की स्थिति में नहीं है। ऐसे में हम हर एंगल से पुलिस जांच कर रहे है। वहीं आरोपी की तलाश भी शुरू कर दी है। - आरएस शक्तावत, थाना प्रभारी कुरावर।

खबरें और भी हैं...