पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कत्ल का पुलिस ने किया खुलासा:भीख मांगने वाले रंगा के पास 3000 रु. दिखे तो कर दी हत्या

नसरुल्लागंज7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 9 दिन पहले अस्पताल के निर्माणाधीन पाेस्टमार्टम रूम में मिला था शव

28 मई को अस्पताल के निर्माणाधीन पाेस्टमार्टम रूम में हुई एक व्यक्ति के अंधे कत्ल का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। आरोपियों ने अस्पताल में भर्ती भीख मांगने वाले रंगा के पास चिल्लर और कुछ रुपए देखे और इसके लिए उसकी हत्या कर दी। करीब 3 हजार रुपए में से दोनों ने आधे-आधे बांट लिए जिनमें से 1400 रुपए की शराब पी गए और बाकी 1800 रुपए पुलिस ने जब्त कर लिए हैं। इस पूरे मामले में दो आरोपियों ने पहले शराब पीने के लिए लूट को अंजाम दिया और उसके बाद हत्या कर उसे अस्पताल के निर्माणाधीन कक्ष में फेंक दिया। पुलिस के अनुसार दोनों ही आरोपी नशे के आदी हैं। एसडीओपी प्रकाश मिश्रा ने बताया कि थाना प्रभारी कंचन सिंह ठाकुर और उनकी टीम ने इस अनसुलझे हत्या कांड को उजागर किया। इस तरह हुई शिनाख्त: अज्ञात मृतक की शिनाख्त एवं आरोपियों का नाम बताने वालों को 5 हजार रुपए के इनाम की घोषणा की। थाना प्रभारी कंचन सिंह ठाकुर ने बताया कि घटना को लेकर शक की सुई अस्पताल पर पहुंच रही थी। इसके चलते उन्होंने बीते एक पखवाड़े के अंदर अस्पताल में भर्ती हुए मरीजों का डिटेल ली। अस्पताल आने जाने वाले लोगों के लगभग 250 से भी अधिक नंबरों को ट्रेस किया।

पुलिस ने इस मामले में यह देखा कि अस्पताल में भर्ती मरीज अपना इलाज कराकर वापस लौटा है या नहीं। इस दौरान पता चला कि मृतक रंगा उर्फ घुमा 22 मई को अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती हुआ था लेकिन वह बिना बताए ही अस्पताल से अपना बेड छोड़कर चला गया। पुलिस ने मृतक व्यक्ति की शिनाख्त करने के लिए उसके परिजनों को देवास जिले के ग्राम पटरानी से बुलाया जहां परिवारजनों ने उसकी शिनाख्त रंगा उर्फ घुमा पुत्र हरनाथ झारिया हाल निवासी जोगला निवासी रूजनखेड़ी के रूप में की।
100 लोगों से पूछताछ के बाद आरोपी पकड़ में आए
इस मामले में 100 से भी अधिक लोगों से पुलिस ने पूछताछ की। इसमें आरोपी सुरेश पुत्र शंकर लाल, पृथ्वी पुत्र मांगीलाल बकोरिया का नाम सामने आए। आरोपियों से जब सख्ती से पूछताछ की गई तो उन्होंने अपना जुर्म कबूल कर लिया। पुलिस की टीम में नवतेश राजपूत, जयनारायण शर्मा, आनंद गुर्जर, दीपक चौहान, राजीव, संजय राजपूत, जितेंद्र यादव, अशोक पटेल, योगेश भासवार आदि थे।

खबरें और भी हैं...