पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

100% तक बढ़ा पैसा:लॉकडाउन के बाद 10 महीने में 2 लाख नए शेयर ट्रेडिंग अकाउंट खुले

भोपालएक महीने पहलेलेखक: गुरुदत्त तिवारी
  • कॉपी लिंक
प्रतिकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
प्रतिकात्मक फोटो
  • पिछले साल 20 मार्च तक ट्रेडिंग खातों की संख्या महज 3 लाख थी, अब बढ़कर 5 लाख के पार
  • सलाह- दूसरों के अनुभव के आधार पर पैसा लगाना घातक

राजधानी में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लगे लॉकडाउन के बाद से 66% नए शेयर ट्रेडिंग खाते खोले गए। यह ज्यादातर लोग वर्क फ्रॉम होम कर रहे कर्मचारी और व्यापारी वर्ग के लोग थे। बाद में लॉकडाउन खत्म और वर्क फ्रॉम होम खत्म होने के बाद भी यह निवेशक बाजार में पैसा लगाते रहे। क्योंकि बाजार उसके बाद से लगातार चढ़ रहा था।

शहर की ब्रोकिंग कंपनियों के अनुसार 20 मार्च 2020 तक यह ट्रेडिंग खातों की संख्या महज 3 लाख थी जो अब बढ़कर 5 लाख के पार हो चुकी है। शेयर बाजार के 50 हजार अंकों के अहम स्तर को पार करने के बाद नए शेयर निवेशकों का लगाया पैसा 100% तक बढ़ चुका है।

भोपाल स्टॉक इंवेस्टर एसोसिएशन के अध्यक्ष संतोष अग्रवाल कहते हैं, आमतौर पर हर साल भोपाल में 2% से 3% ही नए डीमेट खाते खुलते हैं। शेयर ट्रेडिंग इन डीमेट खातों के जरिए ही की जाती है। लेकिन पिछले एक साल में रिकॉर्ड तोड़ ट्रेडिंग खाते खुले। इसकी वजह यह थी कि घर में बैठे व्यापारी और नौकरीपेशा लोगों की दिलचस्पी शेयर मार्केट में बढ़ गई।

वित्तीय सलाहकार अरुण कोठारी बताते हैं कि कोरोना के बाद जो शेयर बाजार में नए निवेशक आए उन्होंने अपना पैसा टाटा मोटर्स, आईटीसी, टाटा स्टील, इंफोसिस, टीसीएस, विप्रो और एसबीआई जैसी पुरानी कंपनियों में ही लगाया। संयोग से इन कंपनियों के शेयर सबसे तेज भागने वाले शेयरों में रहे। टाटा मोटर्स शेयर लॉकडाउन लगने के बाद अगले दिन 23 मार्च-20 को 66.20 रुपए पर था जो 21 जनवरी 341.76% बढ़कर 292.45 रुपए पर पहुंच गया।

भोपाल और इससे लगे क्षेत्र मंडीदीप की भेल और एचईजी जैसी ख्यातनाम कंपनियों में पैसा लगाने वालों को ज्यादा रिटर्न नहीं मिला। निवेश सलाहकार राजेश तांतेड़ कहते हैं, नए निवेशक मुख्य रूप से दुकानदार, वर्क फ्रॉम होम कर रहे नौकरीपेशा लोग थे। बाजार में अभी काफी तेजी र्है। नए निवेशकों को निवेश से पहले भलीभांति विचार करना चाहिए।

50 हजार के 94 हजार हुए

मैं इटारसी की रहने वाली हूं। मैं एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करती हूं। घर से काम करते हुए मैंने 50 हजार की बचत को शेयर बाजार में लगाया। आज यह बढ़कर 94 हजार हो चुकी है। मुझे पता है कि शेयर कभी भी गिर सकते हैं। इसलिए मैंने केवल अपना सरप्लस पैसा ही शेयर बाजार में लगाया है।

-सीमा सोलंकी, प्राइवेट नौकरी

अब तक 40% का फायदा

मैं सीए की पढ़ाई कर रहा हूं। लॉकडाउन में हमारी क्लासेस प्रभावित हुईं। इसलिए शेयर बाजार में पैसा लगाना शुरू किया। मैंने ऑटोमोबाइल और आईटी कंपनियों में ही निवेश किया। मैंने कुल 80 हजार रुपए निवेश किया था अब यह 1.12 लाख रुपए हो चुका है।

-वैभव श्रीवास्तव, छात्र

इंग्लैंड से वापस आया क्या करता

मैं लंदन में पढ़ता हूं। संक्रमण बढ़ने के बाद क्लासेस बंद हुईं। मुझे लौटना पड़ा। मैंने अपने अध्ययन से इंडसइंड बैंक और अशोक लीलैंड पर पैसा लगाया। मेरी होल्डिंग में आज 60-70% बढ़ चुकी है।

-अजय बुधवानी, छात्र

लॉकडाउन के बाद- 91 प्रतिशत बढ़ा शेयर बाजार

12 फरवरी-20 को सेंसेक्स 41,565 अंकों पर था। फरवरी के अंत तक चीन से बाहर दुनिया में कोरोना फैलने की खबरें आने लगीं। मार्च में भारत में भी कोरोना ने पैर पसारने लगा। इसके बाद शेयर बाजार तेजी से नीचे आया। 23 मार्च को सेंसेक्स 37.49% फिसलकर 26 हजार से नीचे 25,981.24 अंकों तक पहुंच गया। इसके बाद शेयर बाजार में तेजी से रिकवरी देखने को मिली। 21 जनवरी को सेंसेक्स 50 हजार अंकों के अहम स्तर को पार करने के बाद 49,624.76 अंकों तक जा पहुंचा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

    और पढ़ें