पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अपेक्स बैंक में 104 अफसरों की भर्ती में बड़ी गड़बड़ी:डिप्टी जीएम के 2 पद, 2 ही देंगे परीक्षा, असिस्टेंट जीएम के 3 पद, 3 ही कैंडिडेट

भोपाल7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मुख्य परीक्षा 19 जून को, प्री एग्जाम की मैरिट सूची जारी, इनमें से कई के 100 में से 33 नंबर भी नहीं। - Dainik Bhaskar
मुख्य परीक्षा 19 जून को, प्री एग्जाम की मैरिट सूची जारी, इनमें से कई के 100 में से 33 नंबर भी नहीं।

सहकारी बैंकों की अपेक्स संस्था में डिप्टी जीएम और असिस्टेंट जीएम के साथ अफसरों के 104 पदों पर की जा रही भर्ती में नई गड़बड़ी सामने आई है। भर्ती के लिए मुख्य परीक्षा से पहले अपेक्स बैंक ने प्री-एग्जाम कराए, जिसकी मैरिट ऐसी बनी है कि जिसमें डिप्टी जीएम के दो पदों के लिए दो नाम की ही मैरिट है। असिस्टेंट जीएम के तीन पदों के लिए भी तीन नामों की मैरिट है। बैंक के भर्ती नियम कहते हैं कि प्रत्येक पद के लिए कम से कम पांच अभ्यर्थी मुख्य परीक्षा और तीन व्यक्ति साक्षात्कार में बैठने चाहिए।

इतना ही नहीं, कोरोना संक्रमण जब बढ़ रहा था तब देशभर में ज्यादातर एग्जाम रद्द हुए, लेकिन सहकारी बैंकों की अपेक्स संस्था में एग्जाम हो गए। साथ ही मैरिट भी जारी हो गई। अब मुख्य परीक्षा भी 19 जून को प्रस्तावित कर दी गई है। अपेक्स बैंक के सूत्रों का कहना है कि चुपचाप संचालन समिति की बैठक करके मैरिट जारी की गई है। साथ ही मैरिट वालों को मुख्य एग्जाम का न्यौता दे दिया गया है। अपेक्स बैंक की मैरिट में डिप्टी जीएम के दो पदों की मुख्य परीक्षा के लिए दो नामों की ही मैरिट जारी हुई है। इसी तरह असिस्टेंट जीएम के तीन पदों के लिए भी तीन की ही मैरिट है।

इसके अलावा मैनेजर, डिप्टी मैनेजर, असिस्टेंट मैनेजर, सीईओ, मैनेजर अकाउंट, मैनेजर एडमिनिस्ट्रेशन और नोडल ऑफिसर के तमाम पदों के लिए भी पांच गुना कैंडिडेट मुख्य एग्जाम में नहीं भेजे गए। बैंक के लोगों का कहना है कि आमतौर पर प्री-एग्जाम के लिए भी न्यूनतम अंक तय होने चाहिए लेकिन, अपेक्स बैंक ने ऐसी कोई बाध्यता नहीं रखी। न्यूनतम 40 अंकों की बाध्यता मुख्य एग्जाम में रखी गई है।

मैरिट में ऐसे लोग भी शामिल हैं, जिनके प्री-एग्जाम में 15 अंक तक आए हैं। एक जनवरी 2021 काे इन भर्तियों के लिए ऑनलाइन आवेदन बुलाए गए तथा 31 जनवरी अंतिम तिथि रखी गई। इन तमाम पदों का प्रारंभिक वेतन और भत्ते मिलाकर करीब एक लाख रुपए की तनख्वाह बनती है। जानकारों का कहना है कि चूंकि पद अधिकारी स्तर के हैं, इसलिए कम से कम मप्र लोकसेवा आयोग के भर्ती नियम तो मानने थे कि एक पद के लिए कम से कम 15 नाम हों। यह भी नहीं किया गया।

अपेक्स बैंक के भर्ती नियम क्या हैं?

  • एक पद के लिए कम से कम पांच लोगों को मुख्य परीक्षा में शामिल होना चाहिए।
  • साक्षात्कार में एक पद के लिए कम से कम तीन लोग होने चाहिए।
  • इंग्लिश लैंग्वेज में कम से कम 30 प्रतिशत अंक, जनरल अवेयरनेस-प्रोफेशनल नॉलेज में 40 प्रतिशत और कुल अंकों में से कम से कम 40 प्रतिशत प्राप्तांक होना जरूरी है।
  • यहां प्रक्रिया पर भी उठे सवाल
  • कोविड के दौरान प्री-एग्जाम हुए। देश में सिर्फ 12 सेंटर रखे गए। मप्र में पांच सेंटर भोपाल, ग्वालियर, इंदौर, जबलपुर और सागर बनाए गए। उत्तर प्रदेश में दो इलाहाबाद-लखनऊ, गुजरात में अहमदाबाद, महाराष्ट्र में दो नागपुर और पूणे, दिल्ली में एक और छत्तीसगढ़ में एक रायपुर बनाया गया।
  • मुख्य परीक्षा की तिथि भी पहले 6 जून रखी गई। इसके बाद 19 जून की गई।
  • अपेक्स बैंक की संचालन समिति की बैठक में एक मत होकर रिजल्ट जारी करने का फैसला किया। लेकिन अगली बैठक जो एक मई को हुई, उसमें पिछली बैठक का पालन-प्रतिवेदन एजेंडा शामिल नहीं किया गया।

इसी तरह 75 पदों के लिए भी प्री एग्जाम हुए
1. सीईओ : 12 पद (5 अनारक्षित-7 आरक्षित)
- पांच नामों की मैरिट जारी। नियमानुसार 60 नाम सूची में होने थे।
- पांच नामों में अनुभव, अमित कुमार, प्रदीप तिवारी, नितिन गुप्ता और पुनीत कुमार नाहेटा शामिल हैं। इसमें अमित को प्री-एग्जाम में 100 में से 31.50, प्रदीप को 30.50, नितिन को 25.75 और पुनीत को 25.50 अंक मिले।
2. मैनेजर अकाउंट : 30 पद (12 अनारक्षित-18 आरक्षित)
- 61 नामों की मैरिट सूची जारी की गई है। नियमानुसार 150 नाम होने थे।
- मैरिट में शामिल 19 नाम ऐसे हैं, जिनके 100 में से न्यूनतम उत्तीर्ण अंक भी नहीं हैं। प्री एग्जाम में दो कैंडिडेट अभिजीत पाटीदार और सुमित कुमार लोखंडे को तो क्रमश: 17 और 16 नंबर ही मिले हैं जो मुख्य एग्जाम देंगे।
3. मैनेजर एडमिनिस्ट्रेशन : 30 पद (12 अनारक्षित-18 आरक्षित)
- मैरिट में 117 नाम शामिल किए गए। नियम के अनुसार 150 नाम मैरिट में होने थे।

4. नोडल ऑफिसर : 03 पद (1 अनारक्षित-2 आरक्षित)
- 11 नामों की मैरिट जारी की गई, जबकि 15 नाम होने थे।
कोट्स
इस पूरे मामले के परीक्षण के लिए बैंक को कहा गया है।
- नरेश कुमार पाल, प्रशासक अपेक्स बैंक व पंजीयक मप्र

1. डिप्टी जीएम : 02 (1 अनारक्षित-1 आरक्षित)

  • दो नामों (राजेश भोजवानी और विकास तिवारी) की ही मैरिट जारी। नियमानुसार दो पद के लिए मुख्य परीक्षा में बैठने वालों की संख्या 10 होनी चाहिए।
  • मैरिट सूची दस की होनी थी, लेकिन सिर्फ दो लोगों के नाम रखे। एक को प्री एग्जाम में 100 में से 50 मिले, दूसरे को 28.50 अंक।

2. असिस्टेंट जीएम : 03 (2 अनारक्षित- 1 आरक्षित)

  • तीन नामों (आकांक्षा एलेना तिर्की, सक्षम यूएस शुक्ला और संदीप कुमार उपाध्याय) की ही मैरिट जारी। नियमानुसार मैरिट 15 की होना चाहिए।
  • तीन नामों में पहले कैंडिडेट को प्री एग्जाम में 100 में 30 अंक मिले हैं, दूसरे को 26.50 और तीसरे को 18.75 अंक मिले हैं।

3. मैनेजर : 03 (दो अनारक्षित-एक आरक्षित)
10 नामों की मैरिट दी गई, जबकि नियमानुसार 15 नाम होने थे। मैरिट सूची में मैनेजर एकाउंट के लिए 5 नाम अभिजीत उपाध्याय, तरुण तिवारी, दीपक राव, रामशरन गुप्ता और जयदीप पांचाल शामिल हैं। इसी तरह मैनेजर आईटी के लिए पांच नाम निहाल सिंह, पूजा अरोरा, शिवानी निगम, कृतिका खंडेलवाल व चेतना केसवानी शामिल हैं। चेतना के अंक प्री एग्जाम में 100 में से 32.75 आए हैं।

4. डिप्टी मैनेजर : 07 (1 अनारक्षित - 6 आरक्षित)
22 लोगों की मैरिट जारी हुई, जबकि नियमानुसार 35 उम्मीदवार मुख्य परीक्षा में जाने चाहिए थे।

डिप्टी मैनेजर एचआरएमडी में अमित सिंह, रोहित गुप्ता, जलज बहोरे व अफजल खान। डिप्टी मैनेजर क्रेडिट में हिमांशु मत्री, मजहर खान, विवेक सोनी, भावेश मंडलोई, नंदकुमार कुशवाह व अंकित धोटे। डिप्टी मैनेजर कंस्ट्रक्शन-मेंटीनेंस में राजदीप माधव, मनुराज सिंह, पीयूष बगडेरे, शुभम कुमार और केतन बारथे। शुभम के प्री में 100 में से 25 व केतन को 21.50 अंक मिले। डिप्टी मैनेजर फाइनेंस में मरावी को प्री में 18.50 और मस्कोले को 16.25 अंक मिले हैं।

5. असिस्टेंट मैनेजर : 14 (2 अनारक्षित-12 आरक्षित)
51 नामों की मैरिट जारी हुई। नियमानुसार यह संख्या 70 होनी थी जो मुख्य परीक्षा में जाएंगे।

इन 51 में जिन लोगों को 100 में से न्यूनतम उत्तीर्ण अंक भी नहीं मिले, उनमें कीर्ति चौरसिया को 15.75, मनीषा पाल को 27.25, अपूर्वा कुंभारे को 13.25, हर्षा उमारिया को 27.50, मोनिका कलोसिया को 18, सुचेता गढ़पालेको 16.50, राजेश अलीवाल को 30.75, पवन विश्वकर्मा को 25, आदेश पाल को 25, मो. सलमान को 23.25 और रजनीश कुमार सेन को 31.75 अंक मिले हैं।