• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • 200 Traders Will Do Muhurta Deals, Farmers' Grain Will Be Sold At A Higher Price; There Will Also Be A Meeting

4 दिन बाद खुली भोपाल की करोंद मंडी:व्यापारियों ने किए मुर्हूत के सौदे, किसानों का अनाज ऊंचे भाव में खरीदा; मिलन समारोह भी हुआ

भोपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
करोंद मंडी में कांटे-बांट की पूजा करते व्यापारी। - Dainik Bhaskar
करोंद मंडी में कांटे-बांट की पूजा करते व्यापारी।

भोपाल की करोंद अनाज मंडी में शनिवार को मुहूर्त के सौदे हुए। व्यापारियों ने किसानों का अनाज ऊंची बोली लगाकर खरीदा। वहीं, दिवाली मिलन समारोह भी आयोजित किया।

दिवाली के चलते व्यापारी कारोबार बंद रखते हैं और दूज यानी दिवाली के तीसरे दिन मुहूर्त के सौदे करके अनाज खरीदी का श्रीगणेश करते हैं। इस बार 6 नवंबर को मुहूर्त के सौदे हुए। इसमें सबसे पहले जिस किसान के अनाज की नीलामी हुई, उसकी ज्यादा से ज्यादा बोली लगाई गई। घमंडा के किसान संतोष का शरबती गेहूं 3001 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से खरीदा गया। वहीं, सोयाबीन, मक्का और चना लेकर पहुंचे किसानों का भी अनाज ऊंचे भाव में व्यापारियों ने खरीदा। फड़ पर ही किसानों का साफा बांधकर सम्मान भी किया गया।

मंडी व्यापारी संघ के अध्यक्ष हरीश ज्ञानचंदानी और प्रवक्ता संजीव कुमार जैन ने बताया, सुबह 7 से 9.30 बजे तक मुहूर्त में कांटे-बांट की पूजा की गई। फिर 10 बजे से नीलामी शुरू की। जिसमें किसानों का अनाज खरीदा गया। दोपहर 12.30 से 1 बजे तक व्यापारियों का दिवाली मिलन समारोह आयोजित हुआ।

मक्का की सबसे ज्यादा आवक

अब तक मक्का की सबसे ज्यादा आवक रही है। करीब ढाई हजार क्विंटल मक्का रोज बिकने आ रही थी। जिसके भाव एक हजार से 1500 रुपए प्रति क्विंटल तक रहे। गेहूं एक हजार बोरे, देशी चना 500 बोरे और सोयाबीन की आवक एक हजार बोरे तक रही। शनिवार से मंडी खुलने पर सोयाबीन और मक्का की आवक ज्यादा बढ़ जाएगी।

अध्यक्ष ज्ञानचंदानी ने बताया, पिछले दो साल की तुलना में इस बार सोयाबीन बेहतर क्वालिटी का आ रहा है। इसलिए किसानों को भाव भी 4800 से 5500 रुपए प्रति क्विंटल तक मिल रहे हैं। शनिवार को मंडी 4 दिन के बाद खुली थी।

खबरें और भी हैं...