• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • 48 Heart Attack Patients, 15 Brain Stroke Patients In 24 Hours; 40% Of Heart Attack And 30% Of Brain Stroke Cases Increased In 7 Days

ठंड का अटैक:24 घंटे में हार्टअटैक के 48, ब्रेन स्ट्रोक के 15 मरीज; 7 दिन में हार्टअटैक के 40% और ब्रेन स्ट्रोक के 30% केस बढ़ गए

भोपाल7 महीने पहलेलेखक: विवेक राजपूत
  • कॉपी लिंक

राजधानी में लगातार तीसरे दिन कोहरा छाया रहा। मंगलवार रात तापमान 8.2 डिग्री तक गिर गया। लगातार 9 दिन से यहां पारा 10 डिग्री से कम बना हुआ है। इसका सीधा असर लोगों की सेहत पर दिखने लगा है। शुगर, ब्लड प्रेशर जैसी गंभीर बीमारियों से ग्रस्त मरीजों में हार्टअटैक और ब्रेन स्ट्रोक का खतरा बढ़ रहा है। बीते एक सप्ताह में हार्टअटैक के करीब 40% और ब्रेन स्ट्रोक के 30% केस बढ़ गए।

भोपाल के अलग-अलग अस्पतालों में पिछले 24 घंटे में हार्टअटैक के 48 और ब्रेन स्ट्रोक के 15 मरीज भर्ती हुए हैं। डॉक्टरों का कहना है कि दोनों ही मामलों में 90 प्रतिशत मरीज ऐसे हैं जिन्हें सुबह 9 बजे से पहले अस्पताल लाया गया। मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो 22 जनवरी से एक बार फिर ठंड बढ़ने के आसार हैं। ऐसे में इन मरीजों को अपना खास ध्यान रखने की जरूरत है।

घातक सुबह- 90% मरीज ऐसे, जिन्हें सुबह 9 बजे के पहले अस्पताल लाया गया

हार्टअटैक : हमीदिया में हर रोज आ रहे 10 से ज्यादा मरीज

हमीदिया में हार्टअटैक के सामान्यत: चार-पांच मरीज आते हैं, लेकिन पिछले एक सप्ताह से रोज 10 से 11 मरीज आ रहे हैं। इनमें अधिकांश ऐसे हैं, जिन्हें सुबह के वक्त ही अटैक आया। पिछले एक सप्ताह में 50 से ज्यादा मरीज आ चुके हैं। इनमें 40 की उम्र 50 साल या उससे अधिक और 10 मरीज इससे कम उम्र के हैं।

ब्रेन स्ट्रोक : 10 दिन में पहुंचे 25 मरीज, 23 को बीपी की शिकायत

हमीदिया में 7 दिन में C स्ट्रोक के 25 से ज्यादा मरीज पहुंचे। इनमें 23 को बीपी की शिकायत हैं। यही नहीं, इनमें 19 मरीज 60 साल से ज्यादा उम्र केे हैं। जीएमसी के न्यूरो फिजिशियन डॉ. आरएस यादव के अनुसार उनके यहां 25% ऐसे आ रहे हैं, जिनकी हालत गंभीर होती है। खास बात यह है कि सभी को सुबह के वक्त अस्पताल लाया गया।

खतरा इसलिए... ज्यादा ठंड में ब्लड वेसेल्स सिकुड़ने से खून का बहाव कम हो जाता है

ज्यादा सर्दी के मौसम ब्लड वेसेल्स सिकुड़ जाती हैं। इस कारण खून का बहाव कम होता है। ऐसे में हार्ट को ज्यादा तेजी से पंपिंग करनी पड़ती है। यानी दिल को जल्दी-जल्दी धड़कना होता है। इससे ब्लड प्रेशर बढ़ता है और हार्ट अटैक की स्थिति बन जाती है। इसी प्रकारण ब्लड वेसेल्स सिकुड़ने से दिमाग की नसों में भी खून का बहाव कम होता है। अगर खून का बहाव पूरी तरह से रुक जाए तो उसे ब्रेन स्ट्रोक कहते हैं।-डॉ. योगेंद्र श्रीवास्तव, मेडिसिन विशेषज्ञ, जेपी अस्पताल

फुुटपाथ से मिले दो शव, ठंड से मौत की आशंका

शाहजहांनाबाद और अवधपुरी इलाके में दो लोगों की मौत हो गई। उनके शव फुटपाथ से बरामद किए गए हैं। अनुमान है कि दोनों की मौत ठंड के कारण हुई होगी, लेकिन सही कारणों का खुलासा पीएम रिपोर्ट मिलने के बाद होगा। पुलिस ने मर्ग कायम कर शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

शाहजहांनाबाद पुलिस के मुताबिक सोमवार सुबह करीब 8 बजे राॅयल मार्केट स्थित फुटपाथ से एक व्यक्ति का शव बरामद किया गया था। उसकी उम्र करीब 50 साल बताई गई है। खजूरीकलां बायपास रोड स्थित दुकान के सामने से एक बुजुर्ग मृत अवस्था में मिला। रविवार रात कुछ लोगों ने उन्हें चाय भी पिलाई थी।

खबरें और भी हैं...