पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • 50 Thousand Vaccines Are Needed Daily For First And Second Dose, Now Only Half Are Available

जिले में टीकों की किल्लत:फर्स्ट और सेकंड डोज के लिए रोज चाहिए 50 हजार टीके, अभी आधे ही मिल रहे

भोपाल23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
राजधानी में वैक्सीनेशन करने वाली टीम के सामने दोहरी चुनौती है। - Dainik Bhaskar
राजधानी में वैक्सीनेशन करने वाली टीम के सामने दोहरी चुनौती है।
  • फर्स्ट डोज वाले 6.47 लाख को करना होगा इंतजार
  • 1.92 लाख को 3 से 14 अप्रैल के बीच कोविशील्ड का फर्स्ट डोज लगे थे
  • 84 दिन बाद इन सभी लोगों को लगना था सेकंड डोज
  • 07 दिन पहले शुरू हो गई है सेकंड डोज लगने की अवधि

राजधानी में वैक्सीनेशन करने वाली टीम के सामने दोहरी चुनौती है। क्योंकि, एक तरफ शहर में 6.47 लाख लोगों को फर्स्ट डोज का इंतजार है तो वहीं दूसरी ओर सेकंड डाेज वालों की संख्या भी बढ़ती जा रही है। कारण यह है कि शहर में 3 से 14 अप्रैल के बीच करीब 1.92 लाख को फर्स्ट डोज लगाया गया था।

यह सभी कोविशील्ड वाले हैं। इन्हें 84 दिन में सेकंड डोज लगना था। यह अवधि एक हफ्ते पहले शुरू हो गई थी, लेकिन शासन के पास कम वैक्सीन होने के कारण सेकंड डोज शुरू नहीं हो पाया। इससे सेकंड डोज वालों की कतार लंबी होती जा रही है। इसे देखते हुए जिला प्रशासन ने 3 जुलाई को काेवैक्सीन के 13620 सेकंड डोज लगाए थे। वहीं 5 से 7 जुलाई तक कोविशील्ड के करीब 20 हजार सेकंड डोज लगाए गए। अब शहर में इतने ही लोग फिर सेकंड डोज के लिए तैयार हैं। प्रशासन के पास करीब 25 हजार टीके हैं और यह भी सेकंड डोज का इंतजार करने वालों को गुरुवार को लगाए जाएंगे। ऐसे में अब रोज फर्स्ट और सेकंड के लिए 50 हजार डोज चाहिए।

बुधवार को 100% से ज्यादा वैक्सीनेशन...26088 को लगा सेकंड डोज

बुधवार को पूरे शहर में वैक्सीनेशन के लिए 100 सेंटर बनाए गए थे। इसमें 73 सेंटर पर 16250 कोविशील्ड और 27 सेंटर पर काेवैक्सीन के 9 हजार डोज रखे गए थे। इसमें से शाम 6 बजे तक 26088 सेकंड डोज इस्तेमाल हो गए थे। इसमें से 3% लोग ही बुकिंग के बाद सेंटर नहीं पहुंचे तो उनके स्थान पर अन्य लोगों को सेकंड डोज लगाए गए।

आज भी सिर्फ सेकंड डाेज

शहर में सिर्फ सेकंड डोज लगाने की शुरुआत 3 जुलाई से हुई थी। अब गुरुवार को भी सेकंड डोज ही लगाए जाएंगे। इसमें करीब 25 हजार डोज दोनों वैक्सीन के हैं। इसके लिए बुधवार सुबह से पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीयन शुरू हो गया था। प्रशासन के ऊपर सेकंड डाेज लगाने को लेकर दबाव है, क्योंकि इनकी संख्या लगातार बढ़ रही है।

जब ज्यादा वैक्सीन मिलने लगेगी तो फर्स्ट डोज लगाने शुरू करेंगे

बुधवार की तरह गुरुवार को भी सिर्फ सेकंड डोज लगाए जाएंगे, क्योंकि इन लाेगों के सेकंड डोज का समय हो गया है। आगे वैक्सीन की उपलब्धता अधिक होती है तो फर्स्ट डोज भी शुरू कर दिया जाएगा। -डॉ. उपेंद्र दुबे, जिला टीकाकरण अधिकारी

खबरें और भी हैं...