पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना में राहत की मांग:54 दुकानदार नहीं भिजवा पा रहे किराना, अब और दुकानों को अनुमति देने की तैयारी

भोपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • रोज 20 हजार तक मिलते हैं ऑर्डर, डिलीवरी 5 हजार की ही

शाहपुरा निवासी डीके दुबे ने किराना सामान बुलाने के लिए प्रशासन द्वारा जारी सूची में से एक दुकानदार को फोन लगाया तो उसने होम डिलीवरी से ही इनकार कर दिया। दुकानदार का तर्क था कि सेकंड स्टॉप के पास चक्की चौराहा से शाहपुरा तक वह सामान नहीं पहुंचा सकता। प्रशासन ने जो सूची जारी की है उसमें शाहपुरा के एक भी दुकानदार का नाम नहीं है। गौतम नगर और रचना नगर, अवधपुरी और सलैया के रहवासी भी परेशान हो रहे हैं।

अब फिर से किराना दुकानदारों का डाटा होगा तैयार

किराने की होम डिलीवरी के लिए राजधानी 25 लाख की आबादी 54 छोटे-छोटे दुकानदारों के हवाले है। शहर के सुपर बाजार और ऐसे दुकानदार जिनके पास पर्याप्त सामान उपलब्ध हैै और जो होम डिलीवरी की व्यवस्था कर सकते हैं उन्हें दूर रखते हुए छोटे-छोटे दुकानदारों को अनुमति जारी की गई है।

इन 54 दुकानदारों के अलावा 14 ऐसे संस्थान हैं जो ऑनलाइन बुकिंग कर सामान घर पहुंचाते हैंं। लेकिन उनकी क्षमता अधिकतम 5000 लोगों को सामान पहुंचाने की है। जबकि जरूरत एक दिन में लगभग 15 से 20 हजार ऑर्डर पूरे करने की है। निगम कमिश्नर वीएस चौधरी कोलसानी ने बताया कि पूरे शहर के किराना दुकानदारों का डाटा तैयार कर लिया गया है। जल्द ही प्रशासन के माध्यम से कुछ और दुकानदारों को होम डिलीवरी की अनुमति दी जाएगी।

खबरें और भी हैं...