• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • 58 Active Cases In The City; Of These, 47 Have Received Both The Doses, 52 Have Travel History And 11 Have Received The First Dose.

कोविड अपडेट:शहर में 58 एक्टिव केस; इनमें 47 को दोनों डोज लग चुके, 52 की ट्रैवल हिस्ट्री और 11 को फर्स्ट डोज लगा है

भोपाल2 महीने पहलेलेखक: विवेक राजपूत
  • कॉपी लिंक
वैक्सीन लगने के बाद जो संक्रमित हुए, उनमें किसी प्रकार के गंभीर लक्षण नहीं। - Dainik Bhaskar
वैक्सीन लगने के बाद जो संक्रमित हुए, उनमें किसी प्रकार के गंभीर लक्षण नहीं।
  • 89.65% लोग यात्रा के दौरान हुए संक्रमित, इसलिए जरूरी होने पर ही कहीं जाएं

अगर आपको कोरोना वैक्सीन के दोनों टीके लग चुके हैं तो भी आप कोरोना वायरस से संक्रमित हो सकते हैं। ये हम नहीं, बल्कि हाल के दिनों में शहर में सामने आए कोरोना मरीजों के आंकड़े बता रहे हैं। दरअसल, अभी शहर में कोरोना के 58 एक्टिव मरीज हैं, जो घर या अस्पताल में भर्ती होकर अपना इलाज करा रहे हैं।

इन मरीजों से बात की गई तो पता चला कि 58 में से 52 मरीज ऐसे थे, जो कहीं ना कहीं से यात्रा करके आए हैं, जबकि 47 मरीजों को वैक्सीन के दोनों डोज लग चुके हैं। सिर्फ 11 ही मरीज ऐसे हैं, जिन्हें सिर्फ एक डोज ही लगा है। सिर्फ 6 मरीज ऐसे थे, जिनकी कोई भी ट्रेवल हिस्ट्री नहीं मिली है। वर्तमान में एक्टिव मरीजों से सबसे जयादा 89.65% यात्रा के दौरान ही संक्रमित हुए हैं।

स्टेशन पर हुए ज्यादा सैंपल- नए मरीजों में ज्यादातर वे जिनके सैंपल रानी कमलापति व भोपाल स्टेशन पर लिए गए। पिछले दो दिन से यहां अधिकतर सैंपल रैपिड किट से ही लिए जा रहे हैं। ऐसे में रिपोर्ट उसी दिन मिलने पर मरीज को सूचना दी जा रही है।

हिदायत जब तक बहुत जरूरी न हो, यात्रा पर न जाएं

गांधी मेडिकल कॉलेज के पल्मोनरी डिपार्टमेंट के एचओडी डॉ. लोकेंद्र दवे हिदायत दे रहे हैं कि कि जब तक जरूरी नहीं हो यात्रा पर नहीं जाएं। अगर यात्रा पर जाना भी पड़ रहा है तो मास्क व सैनिटाइजर रखें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन जरूर करें।

वैक्सीन का फायदा- 58 एक्टिव मरीजों में से सिर्फ 9 को अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत पड़ी है। इनमें से भी अधिकांश की हालत सामान्य है। 8 पॉजिटिव काटजू अस्पताल में भर्ती हंै। इनमें से एक भी मरीज को किसी भी तरह के लक्षण ही नहीं हैं।

रैपिड के बाद आरटीपीसीआर- पॉजीटिव मरीजों को जवाहर चौक स्थित काटजू अस्पताल में रखा जा रहा है। यह रैपिड एंटीजन जांच में पॉजीटिव आए हैं। बुधवार को इनके आरटीपीसीआर सैंपल लिए हैं। रिपोर्ट निगेटिव आने पर उन्हें घर भेजा जाएगा।

ट्रेस नहीं हो पा रहे- दो मरीज अस्पताल में भर्ती, दो के पते गलत... तलाश जारी

बुधवार को जो मरीज पॉजीटिव आए हैं, उनमें से 2 में लक्षण थे। ऐसे में परिजनों ने उन्हें अस्पताल में भर्ती किया है। एक मरीज का एम्स तो दूसरे का चिरायु में इलाज चल रहा है, जबकि दो मरीजों के मोबाइल नंबर बंद आ रहे हैं और इनकी ओर से दिए गए पते भी गलत मिले हैं। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग ने इसकी जानकारी जिला प्रशासन को दी है।

जिनकी रिपोर्ट निगेटिव आती है, उन्हें घर भेज दिया जाएगा

हमारे यहां आठ मरीज भर्ती हुए हैं। सारे मरीज रैपिड एंटीजन किट जांच में पॉजीटिव आए थे। बुधवार दोपहर सभी के आरटीपीसीआर सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं। जिनकी रिपोर्ट निगेटिव आती है, उन्हें घर भेज दिया जाएगा। -डॉ. आरपी पटेल, अधीक्षक, काटजू अस्पताल

खबरें और भी हैं...